• 5
    Shares

एक फ्रीलांस जर्नलिस्ट रोहिणी सिंह ने अपनी खोजी पत्रकारिता के जरिए राजनीति में बार-बार तूफ़ान लाए हैं । पहले रॉबर्ट वाड्रा की संपत्ति मामले में खुलासा किया और अब भाजपा सरकार में फल-फूल रहे अमित शाह के बेटे की कंपनी को मिले अप्रत्याशित फायदे का खुलासा करते हुए फिर से चर्चा में है ।

उन्होंने न्यूज वेबसाइट द वायर डॉट इन पर लिखे अपने आर्टिकल में खुलासा किया है कि अमित शाह के बेटे की कंपनी टेंपल इंटरप्राइजेज का टर्नओवर एक ही साल में 16,000 दिन गुना बढ़ गया ।

जो कंपनी 2014 15 तक महज 50 हजार की थी वही 2015 16 में 80.5 करोड़ की हो गई।

इतने बड़े बदलाव की रिपोर्ट लिखते ही रोहिणी सिंह भाजपा समर्थकों के निशाने पर आ गई । लोग उन्हें विपक्ष और कांग्रेस की साजिश बताने लगे। जबकि सच्चाई यह है कि रॉबर्ट वाड्रा के मामले में भी ऐसे ही सनसनीखेज खुलासा रोहिणी सिंह ने किया था ।

राबर्ट वाड्रा की कंपनी और डीएलएफ जैसी रियल एस्टेट की सबसे बड़ी कंपनी से टाईअप के जरिए राजनीतिक परिवार से उद्योग में मिलने वाले फायदे का खुलासा किया था ।

अब वही काम जब भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के बेटे के खिलाफ जा रही है तो लोग इस पत्रकार को विपक्ष का एजेंट बताने पर तुले हुए हैं ।

लोग इसपर लिखने लगे हैं कि जब दामाद के घोटाले का खुलासा हुआ तो वह क्रांतिकारी पत्रकार कहलाई और अब जब अमित शाह के बेटे की कंपनी की हजारों गुना बढे हुए टर्नओवर की स्टोरी कर रही हैं तो उनके खिलाफ अफवाह उड़ाई जा रही है ।

रोहिणी द्वारा किए गए दोनों खुलासे सोशल मीडिया पर साझा किए जा रहे हैं –