किसान संगठनों द्वारा कल कृषि कानूनों के खिलाफ भारत बंद का आह्वान किया गया था। कई राज्यों में किसान संगठनों ने कृषि कानूनों का खुले तौर पर विरोध करते हुए मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला।

बात की जाए उत्तर प्रदेश की तो जिस तरह से राज्य में किसान संगठनों ने भाजपा की सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है।

उससे साफ जाहिर हो रहा है कि आने वाले विधानसभा चुनाव में पार्टी के लिए कितने मुश्किल होने वाले हैं।

सोशल मीडिया पर न्यूज़ चैनल News24 द्वारा शेयर की गई एक वीडियो में किसान नेता मांगेराम त्यागी भाजपा सरकार को चेतावनी देते हुए नजर आ रहे हैं।

किसान नेता मांगेराम त्यागी का कहना है कि हम सरकार को यह कहना चाहते हैं कि हम देश के किसान हैं। हमने आपको 70 प्रतिशत वोट देकर आपको उत्तर प्रदेश और दिल्ली की सत्ता में भेजने का काम किया है।

आज आप किसानों की फसल और नस्ल को बर्बाद करने पर तुले हुए हैं। आप तीनों कृषि कानूनों को वापस ले वरना हम अपने गांव में आप पर पाबंदी लगा देंगे। उन गांव में आपको घुसने नहीं दिया जाएगा।

आपने देखा ही होगा कि आजकल कई गांव से भाजपा के नेताओं और मंत्रियों को उल्टे पांव खदेड़ा जा रहा है। आने वाले विधानसभा चुनाव हम भारतीय जनता पार्टी के नेताओं को वोट भी नहीं मांगने देंगे।

अगर हमारी बातें नहीं मानी गई तो हम अपने गांव में भाजपा के नेताओं को घुसने तक नहीं देंगे। इनका हर जगह पर बहिष्कार किया जाएगा।

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में भाजपा नेताओं को जनता के गुस्से और विरोध का सामना करना पड़ रहा है। यहाँ तक कि कई गाँवों में भाजपा नेताओं की एंट्री पर बैन लगा दिया गया है।

माना जा रहा है कि अगर किसानों का विरोध इसी तरह से चलता रहा। तो विधानसभा चुनाव 2022 में भाजपा को बड़ा नुकसान हो सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

8 + 5 =