• 4.8K
    Shares

उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था पूरी तरह से विफल हो चुकी है। रोज लूट, हत्या और बलात्कार की वारदातें आम हो चली हैं। सूबे में कानून व्यवस्था की बदहाली का ताज़ा मामला अब राजधानी लखनऊ से सामने आया है। चारबाग रेलवे स्टेशन पर दिनदहाड़े तीन राउंड फायरिंग हुई है।

दिनदहाड़े तीन राउंड फयरिंग होने से इलाके में हडकंप मच गया है। क्योंकि चारबाग के आस-पास का इलाका घना है, इसलिए फायरिंग के बाद यहां का माहौल तनावपूर्ण हो गया है। जानकारी के मुताबिक मामूली विवाद में बाइक सवार ने युवक पर फायरिंग कर दी जिसमें युवक घायल हो गया। घायल युवक को पास के ही बलरामपुर अस्पताल में भारती कराया गया, जहां युवक का इलाज चल रहा है।

यूपी से बदमाशों का सफाया करने की बात करने वाले सीएम योगी आदित्यनाथ खुद राजधानी में वारदातों को रोकने में नाकाम साबित हो रहे हैं। वहीं राज्यपाल राम नाईक अखिलेश सरकार में कहा करते थे ”यूपी में कानून व्यवस्था काफी खराब है और इसमें सुधार किये जाने कि आवश्यकता है। कानून व्यवस्था ठीक रहेगी तभी विकास और व्यापार कि तरक्की होगी।“

राम नाईक का ये बयान है साल 2015 का है जब उन्होंने अखिलेश सरकार में हो रहे अपराधों के लिए दिया था। लेकिन अब रोजाना यूपी में हत्याकांड, बच्चियों का बलात्कार हो रहा है और राज्यपाल राम नाईक चुप हैं।

बता दें कि दो दिन पहले भी लखनऊ के इंतौजा में सीतापुर रोड के सिंघामऊ मोड़ के पास चेकिंग के दौरान बाइक सवार तीन बदमाशों ने पुलिस पर फायरिंग कर दी थी। इस घटना में यूपी पुलिस के दो जवान घायल हो गए थे। जबकि सीएम योगी दावा करते हैं कि बदमाश पुलिस के डर से यूपी छोड़कर भाग गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here