प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

भारतीय जनता पार्टी महिला सुरक्षा और गौरक्षा के मुद्दे पर वोट बटोरने का काम करती आई है। लेकिन उत्तर प्रदेश में न तो महिलाएं सुरक्षित हैं और न ही गायें।

सरकारी आंकड़ों में दिखाया जाता है कि राज्य में गौरक्षा के लिए योगी सरकार ने कमाल का काम किया है। लेकिन सच्चाई ये है कि गौरक्षा के नाम पर राज्य की जनता को मूर्ख बनाने का काम किया जा रहा है।

इससे जुड़ा ताजा मामला यूपी के चित्रकूटधाम मंडल से सामने आया है। जहां पर लगभग 400 गायों ने दम तोड़ दिया है। बताया जाता है कि गौशाला में रहने वाली गायों के नाम पर बड़ा फर्जीवाड़ा हुआ है।

खबर के मुताबिक, सरकारी फाइलों में चित्रकूटधाम मंडल की गायें लगभग 59 करोड़ का चारा खा चुकी है। लेकिन उनकी हालत इतनी खराब है कि भूख की वजह से कई गायों ने दम तोड़ दिया है।

यह सभी आंकड़े मार्च 2019 से लेकर अब तक के बताए जा रहे हैं। इसके अलावा चित्रकूटधाम मंडल में पशुओं की बढ़ रही संख्या पर लगाम लगाने के लिए भी सरकार द्वारा बधियाकरण योजना लागू की गई है।

इस मामले में समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता मनोज काका ने योगी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि

आजकल ज़्यादा ध्यान गुल्लू पर है क्योंकि यूपी की जनता को फिर उल्लू बनाने की नयी नयी तरकीब सोच रही है। गौ माता का भी चारा भी खा रही है योगी सरकार 59 करोड़ चपत और 395 गायों ने तोड़ा दम”

इससे पहले भी राज्य की कई गौशालाओं की खस्ता हालत की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल हो चुकी है। जिसके लिए योगी सरकार की काफी आलोचना भी हुई है।

इसके अलावा उत्तर प्रदेश के कई गाँवों से ये शिकायत सामने आ चुकी है कि सरकार द्वारा राज्य भर में बड़ी-बड़ी गौशालाओं को बनाने का दावा किया जा रहा है।

लेकिन इसके बावजूद मवेशियों के झुंड खेतों और हाईवे पर मंडराते नजर आते हैं। जिसके कारण कई दुर्घटनाएं होती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × 5 =