उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से पहले राज्य में सभी राजनीतिक दलों ने प्रचार प्रसार का जोर पकड़ा हुआ है।

खासतौर पर भारतीय जनता पार्टी उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव जीतने के लिए कई दांव-पेंच खेल रही है।

लेकिन ऐसा प्रतीत हो रहा है कि इस बार विधानसभा चुनाव में भाजपा का जादू लोगों के सर चढ़कर बोल नहीं रहा है।

दरअसल इसकी गवाही भाजपा नेताओं की जनसभाओं में एकत्रित हो रही भीड़ ही दे रही है।

जहां समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव की जनसभा में हजारों की तादाद में लोग जुट रहे हैं। वहीं भारतीय जनता पार्टी के नेताओं की रैलियों में नाम मात्र लोग ही पहुंचे रहे हैं।

इसी कड़ी में पत्रकार दीपक शर्मा द्वारा ट्विटर पर एक वीडियो शेयर किया गया है। जो कि उत्तर प्रदेश के प्रयागराज का बताया जा रहा है।

इस वीडियो को शेयर करते हुए पत्रकार दीपक शर्मा ने लिखा है कि “यह दृश्य प्रयागराज का है। केंद्रीय मंत्री की सभा चल रही है और खाली कुर्सियां गवाही दे रही है कि प्रदेश का सियासी मूड क्या है?

इस विशाल सभा में किसी बर्थडे पार्टी से भी कम संख्या में लोग मौजूद हैं। मंत्री जी अपना नहीं तो कम से कम साहेब का तो ख्याल रखिए।”

गौरतलब है कि हाल ही में उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव को लेकर किए गए सर्वे में सामने आया है कि इस बार भाजपा को उत्तरप्रदेश में सीटों का नुकसान हो सकता है। जिसके बाद भाजपा में बौखलाहट साफ़ देखने को मिल रही है।

ऐसे में भाजपा अपनी साख बचाने के लिए पार्टी के दिग्गज नेताओं को प्रदेश में प्रचार प्रसार के लिए भेज रही है।

इन जनसभाओं में लोगों को जुटाने के लिए पानी की तरह पैसा भी बहाया जा रहा है। लेकिन इस बार लोग भाजपा पर भरोसा नहीं दिखा रहे हैं।

जिससे साफ जाहिर हो रहा है कि अगले साल प्रदेश में सत्ता परिवर्तन देखने को मिल सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

6 + fourteen =