उत्तर प्रदेश में एक पत्रकार की 18 वर्षीय बेटी को दबंगों ने ज़मीन विवाद के चलते ज़िंदा जला दिया। पीड़िता की अस्पताल में मौत हो गई है।

अपराधियों की गुंडागर्दी के कारण एक बेटी की जान चली गई और प्रदेश की कानून व्यवस्था पर भी सवाल खड़े हो गए।

एक्टिविस्ट योगिता भयाना ने इस घटना पर ट्वीट करते हुए लिखा, “उप्र में फिर से दिल दहलाने वाली घटना। पत्रकार प्रदीप सिंह की बेटी को सुल्तानपुर में दबंगो ने 18 वर्षीय युवती को उसके घर के सामने जिंदा जलाया। घटना के तीन घंटे बाद मौके पर पुलिस पहुंची। आनन-फानन में अस्पताल में भर्ती कराया गया,इलाज के दौरान किशोरी की मौत हो गई।”

डेक्कन हेराल्ड में छपी ख़बर के मुताबिक़, पीड़िता के पिता प्रदीप सिंह पूर्व पत्रकार हैं और उनका अपने ही गांव के एक शख़्स, कुंवर सिंह, के साथ ज़मीन विवाद था। ये पूरा मामला सुल्तानपुर का है।

पूर्व पत्रकार और कुंवर सिंह का जून महीने में भी झगड़ा हुआ था। सोमवार को पीड़िता घर में अकेली थी तभी पीड़िता को जला दिया गया और अब उसकी मौत हो चुकी है। पुलिस ने दो लोगों को कस्टडी में लिया है।

हाल ही में यूपी से महिलाओं के साथ हुए बलात्कार की खबरें आती रही हैं। और अब ज़मीन विवाद के चलते लड़की को जलाने की ख़बर।

ये सभी घटनाएं राज्य की कानून व्यवस्था और “बेटी बचाओ” के वादे पर सवाल खड़ा करती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

18 − 2 =