देशभर में इस वक्त दुर्गा पूजा का त्यौहार मनाया जा रहा है। सोशल मीडिया पर योगी आदित्यनाथ की कन्या पूजन करते हुए एक तस्वीर वायरल हो रही है। जिसमें वह बच्चियों के पैर छूते हुए नजर आ रहे हैं।

लेकिन सच्चाई ये है कि योगी आदित्यनाथ के राज में बच्चियां सुरक्षित नहीं दिख रही है। बेटियों पर अत्याचार होने की खबरें लगातार आ रही हैं।

उत्तर प्रदेश में महिला अपराध से जुडी घटनाएं इन दिनों में भी थमने का नाम नहीं ले रही। बीते दिन खबर सामने आई कि महोबा में दुर्गा पूजा के पंडाल से लौट रही युवती को किडनैप कर गैंगरेप की घटना घटी।

अब फिरोजाबाद के थाना रसूलपुर इलाके में एक छात्रा के साथ छेड़छाड़ के विरोध करने पर गोली मारने का मामला सामने आया है।

बताया जा रहा है कि छेड़छाड़ का विरोध किए जाने पर मनचलों ने उसके घर में देर रात घुसकर पहले उसके साथ मारपीट की। जिसके बाद उसे गोली मार कर मौत के घाट उतार दिया।

फिरोजाबाद के रसूलपुर के रहने वाली 11वीं की छात्रा के साथ बीते कुछ वक्त से कुछ मनचले छेड़छाड़ कर रहे थे। वह स्कूल जाते समय उसका पीछा करते थे जब छात्रा ने इसका विरोध किया। तो उसके बाद छात्रा के घर का दरवाजा तोड़ कर उसपर अपने तमंचे से गोलियां दाग दी।

इस मामले में कांग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है। उन्होंने योगी सरकार द्वारा चलाई जा रहे ‘मिशन शक्ति’ अभियान का हवाला देते हुए वीडियो ट्वीट किया है।

अजय कुमार लल्लू ने लिखा है कि फिरोजाबाद में छेड़खानी का विरोध करने पर 11वीं की छात्रा की घर में घुसकर गोली मारकर हत्या कर दी गई।

नवरात्रि का वक़्त है, मां अम्बे की पूजा हो रही है लेकिन प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं है। पूरे ताम-झाम के साथ सीएम ने ‘मिशन शक्ति’ की शुरुवात की जो आज खोखलेबाजी का शिकार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × five =