विधानसभा चुनाव के हाल ही में घोषित किए गए नतीजों पर विपक्षी दलों ने एनडीए पर धांधली का आरोप लगाया है।

महागठबंधन की हार के बाद राजद नेता तेजस्वी यादव ने एक बैठक में कहा है कि नीतीश सरकार ने चोर दरवाजे से एंट्री ली है। क्यूंकि जनता का फैसला तो महागठबंधन के ही हक में था।

इस मामले में अब उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भी भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने कहा है कि बिहार और उत्तर प्रदेश में भाजपा ने बेईमानी से जीत हासिल की है।

दरअसल बिहार में विधानसभा चुनाव के दौरान उत्तर प्रदेश की कुछ सीटों पर उपचुनाव भी हुए थे। इस मामले में अखिलेश यादव ने पूर्व एमएलसी मुलायम सिंह यादव के निधन पर शोक संवेदना व्यक्त करते हुए दिबियापुर क्षेत्र के गांव कढोरे का पुरवा में कहा कि हम उपचुनाव में हारे नहीं है। मेरी एक सीट मुझे मिल गई है।

अखिलेश यादव का कहना है कि भाजपा ने सरकारी मशीनरी के साथ छेड़छाड़ कर यह जीत हासिल की है।

उत्तर प्रदेश के उपचुनाव में अधिकारियों ने सीधे तौर पर भाजपा के लिए वोट मांगा। प्रदेश के प्रशासनिक अधिकारी भाजपा के एजेंट बनकर पार्टी के लिए काम कर रहे थे।

उन्होंने भाजपा उम्मीदवारों को जिताने का दबाव बनाया। वहीँ बिहार में भी जनता ने महागठबंधन के पक्ष में ही अपना विश्वास दिखाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 2 =