योगी आदित्यनाथ के शासन वाले उत्तर प्रदेश में हिंदुत्ववादी संगठनों द्वारा गुंडागर्दी के मामले बढ़ते नज़र आ रहे हैं। ताज़ा मामला सहारनपुर से सामने आया है।

यहां कथित तौर पर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने एक मंदिर के पास लोगों की सुविधा के लिए बनाए गए शौचालय पर धावा बोल दिया और लाठी-डंडों से उसे तोड़ डाला।

इस मामले का वीडियो भी सामने आया है, जिसे पत्रकार पियूष राय ने ट्विटर पर शेयर किया है।

पियूष ने इसे शेयर करते हुए बताया कि बजरंग दल ने हाल ही में नगर निगम को इस बात की चेतावनी दी थी कि अगर मंदिर के पास से शौचालय को नहीं हटाया जाता है तो वो इसके ख़िलाफ़ सड़कों पर उतरकर प्रदर्शन करेंगे।

जानकारी के मुताबिक़, जिन शौचालयों को तोड़ा गया है, वो रोडवेज़ बसस्टैंड के करीब हैं। इन शौचालयों का निर्माण यात्रियों की सुविधा के लिए किया गया था। लेकिन शौचालय का जहां निर्माण किया गया वो जगह मंदिर से सटी हुई है।

इसपर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं को आपत्ति है। बजरंग दल का कहना है कि मंदिर के करीब शौचालय का निर्माण करना मंदिर का अपमान है, जिसे बर्दाश्त नहीं किया जा सकता।

बजरंग दल के कार्यकर्ता मांग कर रहे थे कि शौचालयों को मंदिर के पास से हटाया जाए।

लेकिन जब नगर निगम ने उनकी मांगें नहीं सुनी तो वह गुंडागर्दी पर उतर आए और कानून व्यवस्था की धज्जियां उड़ाते हुए मंदिर से सटे शौचालयों को लाठी-डंडों से तोड़ डाला।

मामला सामने आने के बाद सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने सूबे की योगी सरकार पर ज़ोरदार हमला बोला है। उन्होंने ट्विटर पर वीडियो शेयर करते हुए लिखा, “ये है उत्तर प्रदेश का योगी राज! राज्य प्रायोजित गुंडे अपने काम पर”।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three + 10 =