गणतंत्र दिवस के मौके पर किसानों द्वारा निकाली जाने वाली ट्रैक्टर परेड के लिए दिल्ली में 4 रूट फाइनल किए जा चुके हैं। जिसके लिए दिल्ली पुलिस किसानों की सुरक्षा के पूरे इंतजाम करेगी।

यह ट्रैक्टर परेड दिल्ली के साथ-साथ यूपी के कुछ इलाकों में भी निकाली जाएगी। लेकिन योगी सरकार ने पूर्वांचल के कुछ इलाकों में ट्रैक्टर परेड को लेकर अजीबोगरीब फरमान जारी कर दिए हैं।

खबर के मुताबिक, योगी सरकार ने 26 जनवरी तक पेट्रोल पंपों को डीजल देने पर पाबन्दी लगा दी है। जिसके चलते उत्तर प्रदेश पुलिस ने पेट्रोल पंप के मालिकों से यह कह दिया है कि किसी भी ट्रैक्टर या फिर किसी ड्रम में डीजल नहीं दिया जाएगा।

इसके साथ ही एक और फरमान दिया गया है कि 26 जनवरी को लोग अपना ट्रैक्टर लेकर सड़क पर ना निकले।

इस मामले में समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है। उन्होंने योगी सरकार के इस फरमान पर ट्वीट किया है।

अखिलेश यादव ने लिखा है कि “किसानों की गणतंत्र दिवस ट्रैक्टर परेड रोकने के लिए ट्रैक्टरों को पंपों पर डीज़ल न दिए जाने के निर्देश की ख़बर मिली है। भाजपा, किसान के ख़िलाफ़ निम्न कोटि का षडयंत्र कर रही है। कहीं किसान ‘डीज़ल बंदी’ का जवाब, भाजपाइयों की ‘नाकाबंदी’ से देने लगे तो क्या होगा।”

इससे पहले अखिलेश यादव ने भी शनिवार को किसान आंदोलन का समर्थन देने का ऐलान किया है।

अखिलेश यादव ने कहा है कि उनकी पार्टी राज्य के सभी तहसीलों में किसानों के ट्रैक्टर पर झंडा लगाकर गणतंत्र दिवस को सेलिब्रेट करेगी।

गौरतलब है कि 26 जनवरी को किसान संगठनों द्वारा निकाली जा रही इस ट्रैक्टर परेड के लिए कई दौर की बातचीत के बाद दिल्ली पुलिस द्वारा परमिशन दे दी गई है।

इस मामले में किसान संगठनों ने पहले ही ये बात कह दी है कि अगर इस ट्रैक्टर परेड के दौरान कुछ हिंसा दंगा होता है तो उसकी जिम्मेदारी पुलिस और प्रशासन की होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seven + 20 =