भारतीय जनता पार्टी का नारा ”बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” मजाक बनकर रह गया है। भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में बच्चियों और महिलाओं के साथ हर दिन दुष्कर्म के चौकानें वाले मामले सामने आते हैं।

इसी बीच उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले में दो नाबालिग दलित लड़कियों का शव खेत में पाए जाने के बाद पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है।

खबर के मुताबिक, यह घटना असोहा थाना के बबुरहा गांव की है। दोनों लड़कियों के शव मिलने के बाद पुलिस ने जांच पड़ताल शुरू कर दी है।

बताया जाता है कि लड़कियां जानवरों के लिए चारा लाने के लिए घर से निकली थी। जब शाम तक वापिस घर नहीं पहुंची तो घरवालों ने उनकी तलाश शुरू कर दी। लडकियां खेत में दुपट्टे से बंधी हुई पड़ी थी।

अभी लड़कियों के शव की पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार किया जा रहा है। उसके बाद ही मौत का कारण स्पष्ट हो पाएगा। शुरूआती जांच में प्वाइजन सिम्पटम्स पाए गए हैं।

बताया जा रहा है कि इन दोनों लड़कियों के साथ एक और लड़की भी थी। जो कि जिंदा है और अस्पताल में भर्ती है। तीसरी लड़की की हालत भी नाजुक बनी हुई है।

इस मामले में आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है।

उन्होंने कहा- “कब तक चुप रहोगे? आज उन्नाव है, कल तुम्हारा जिला होगा, आज उनका गाँव है, कल तुम्हारा होगा, आज दलित बेटियाँ पेड़ों से बंधी मिल रही हैं।

कल तुम बंधे मिलोगे। याद रहे, मूक दर्शक बन कर बर्बादी का तमाशा देखने वालों को इतिहास कायर कहता है। डराओ, धमकाओ, मुकदमा करो, मैं बेटियों के साथ हूँ।”

इससे पहले समाजवादी पार्टी के एमएलसी सुनील साजन ने भी योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा है कि उत्तर प्रदेश में जंगलराज है दलित समाज की बच्चियां और महिलाएं यहां पर सुरक्षित नहीं है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

5 × one =