उत्तर प्रदेश में बढ़ रहे अपराध ने प्रशासन और सरकार को सवालों के कटघरे में खड़ा कर दिया हैं। राज्य में अपराध का स्तर हर दिन बढ़ रहा है। बीते दिनों यूपी के कासगंज में 10 वर्षीय बच्चे के अपहरण और हत्या की खबर ने सनसनी मचा दी है।

इसी बीच लखनऊ से एक बड़ी खबर सामने आई है। जहां बदमाशों ने एक मंदिर के पुजारी की पीट-पीटकर हत्या कर दी है और मंदिर का दान पात्र लूट लिया है।

यह घटना लखनऊ के बाहरी इलाके में स्थित शिवपुर गांव की है। जहां पर बने शिव मंदिर के एक 85 वर्षीय पुजारी फकीर दास का शव मंदिर परिसर में बनी उनकी झोपड़ी से मिला है।

बताया जाता है कि हत्या करने वालों ने पुजारी को ईंट से पीट-पीटकर घायल कर दिया और खून से लथपथ वहीं छोड़ दिया।

मौके पर पहुंची पुलिस ने जांच में पाया है कि मंदिर में इन हमलावरों ने लूट को भी अंजाम दिया है। पुलिस को मंदिर से दानपात्र भी मिला है। लेकिन उसमें से वह नकदी गायब है।

जो श्रद्धालुओं द्वारा चढ़ाई जाती है। इसके साथ ही मंदिर परिसर के स्टोर रूम में रखे खाने पीने का सामान भी वहां पर मौजूद नहीं था।

पुलिस ने मृतक पुजारी के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। इसके साथ ही हमलावरों के खिलाफ हत्या का केस भी दर्ज किया जा चुका है।

बताया जाता है कि फॉरेंसिक विशेषज्ञों की टीम और डॉग स्क्वाड को भी बुला कर घटनास्थल की जांच की गई है। लेकिन अभी तक हमलावरों का पता नहीं चल पाया है।

इसके साथ ही पुलिस यह भी पता लगाने की कोशिश कर रही है कि पुजारी के साथ हमलावरों की कोई पुरानी रंजिश तो नहीं थी।

दरअसल मृतक पुजारी मूल रूप से उत्तर प्रदेश के सुल्तानपुर जिले के रहने वाले थे। वह बीते कुछ सालों से मंदिर में अकेले ही रहे थे और यहां की देखभाल करते थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

four × 2 =