उत्तर प्रदेश में बढ़ रहे जंगलराज और गुंडागर्दी के चलते राज्य की योगी सरकार विपक्षी दलों के निशाने पर है। विपक्षी दलों द्वारा सरकार द्वारा शुरू किए गए शक्ति मिशन को सिर्फ एक दिखावा करार दिया जा रहा है।

हर दिन उत्तर प्रदेश से रूह को कंपा देने वाली गैंगरेप और हत्या की घटनाएं सामने आ रही हैं।

अब उत्तर प्रदेश के औरैया से 12 साल की बच्ची के साथ गैंगरेप के बाद हत्या की घटना ने पूरे इलाके में सनसनी मच गई है। बताया जा रहा है कि औरैया के अजीतमल कोतवाली क्षेत्र के पुरवा झाबर गांव में 12 साल की बच्ची का शव बरामद किया गया है।

मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है और जांच शुरू कर दी है।

बताया जा रहा है कि यह बच्ची अपने घर से शाम को बकरियां चराने के लिए निकली थी। लेकिन काफी देर तक वह घर वापस नहीं लौटी।

जिसके चलते परिवार वालों ने उसकी तलाश करनी शुरू की। घर से काफी दूर बाजरे के खेत में बच्ची का शव मिला। आशंका जताई जा रही है कि बच्ची को गला घोंट कर हत्या की गई। क्यूंकि बच्ची के गले को उसी के दुपट्टे से कसा हुआ था।

इस घटना की खबर को शेयर करते हुए वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण ने मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा है।

प्रशांत भूषण ने खबर को ट्वीट करते हुए लिखा है कि “योगी जी बिहार में चुनाव प्रचार कर रहे हैं पर यूपी में जंगलराज जारी है।”

 

गौरतलब है कि इस घटना ने एक बार फिर योगी सरकार के महिला सुरक्षा के दावों की पोल खोल कर रख दी है। राज्य में महिलाएं कितनी सुरक्षित हैं।

इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि हाथरस में घटी भयावह घटना के बाद भी योगी सरकार ने कोई ठोस कदम नहीं उठाए हैं। वहीँ मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बिहार चुनाव के प्रचार करने में व्यस्त चल रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

sixteen + 18 =