उत्तर प्रदेश के सोनभद्र जिले में जमीन विवाद को लेकर हुए नरसंहार ने पूरे यूपी को दहला दिया है। जिले में जमीन को लेकर हुए विवाद के बाद बुधवार को खूनी संघर्ष हुआ है।

अपुष्ट खबरें आ रही हैं कि लगभग 30 ट्रैक्टर ट्रालियों से गुंडे भरकर ले आने वाले भू-माफिया ने 9 आदिवासियों की बेरहमी से हत्या कर दी है जबकि एक दर्जन लोग घायल हैं।

उत्तर प्रदेश में भले ही योगी सरकार प्रदेश में कानून व्यवस्था ठीक होने के बड़े-बड़े दावे करती रही है। लेकिन इस दिल दहला देने वाली घटना ने उन सभी दावों सरकारी दावों की पोल खोल दी है।

जमीन पर कब्ज़े के लिए 300 गुंडे लेकर पहुंचे भू-माफिया, 3 महिला समेत 9 आदिवासियों को मार डाला

पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने इस मामले पर ट्वीट करके योगी सरकार को अपराधियों के सामने नतमस्तक बताया है। उन्होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि, “अपराधियों के आगे नतमस्तक भाजपा सरकार में एक और नरसंहार! सोनभद्र में भू-माफियाओं द्वारा जमीन विवाद के अंदर 9 लोगों की हत्या दहशत और दमन का प्रतीक है। सरकार सभी मृतकों के परिवारों को 20-20 लाख मुआवजा दे और दोषियों पर सख्त कार्रवाई करे।”

घटना सोनभद्र के घोरावल की ग्रामसभा मुर्तिया के उम्भा गांव की है।

सूचना मिलने के बाद पुलिस मौके पर पहुंची और घायलों को अस्पताल पहुंचाया। पुलिस ने घायलों को अस्पताल पहुंचाया, जहां कई लोगों की स्थिति गंभीर बनी हुई है। मृतकों में छः पुरुषों के साथ में चार महिलाएं शामिल हैं। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को तत्काल इलाज के लिए निर्देश दिए हैं।

जिस जमीन को लेकर विवाद हुआ है वो जमीन प्रधान ने दो साल पहले ही खरीदी थी। बुधवार को प्रधान अपने लोगों के साथ जमीन कब्जाने पहुंच गया। इसपर स्थानीय लोगों ने विरोध किया, जिसके बाद फायरिंग शुरू हो गई।