देश के 5 राज्यों में होने वाले विधानसभा चुनावों के लिए चुनाव आयोग ने तारीखें घोषित कर दी हैं। भाजपा के लिए सत्ता की लड़ाई सबसे मुश्किल दो राज्यों में होने वाली है।

पहला राज्य केरल और दूसरा राज्य पश्चिम बंगाल जहां केरल में लेफ्ट का बोलबाला है। वहीं पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी से चुनावी जंग भाजपा के लिए काफी जद्दोजहद भरी हो सकती है।

हाल ही में भाजपा द्वारा केरल विधानसभा चुनाव के लिए मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार का ऐलान किया गया है। केरल में भाजपा ने मेट्रोमैन श्रीधरन को सीएम उम्मीदवार के लिए चुना है।

गौरतलब है कि हाल ही में मेट्रोमैन श्रीधरन भारतीय जनता पार्टी में शामिल हुए थे। जिसके बाद उन्होंने कहा था कि उन्हें राज्यपाल पद संभालने की कोई दिलचस्पी नहीं है।

अब भाजपा नेता और राज्यसभा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने पार्टी के फैसले पर कटाक्ष करते हुए चुटकी ली है।

भाजपा सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने ट्वीट कर लिखा है कि “भाजपा ने केरल में सीएम के लिए 89 साल के श्रीधरन को भाजपा का उम्मीदवार घोषित किया है।

दूसरे शब्दों में, 75+ नेताओं के लिए मार्गदर्शन मंडल के रूप में तैयार किया गया वनवास, ये एक सुविधाजनक कदम था ? मेरा सुझाव है कि आडवाणी, एमएम जोशी और शांता कुमार को 2024 में चुनाव लड़ना चाहिए।”

गौरतलब है कि सुब्रमण्यम स्वामी भाजपा के उन नेताओं में से एक है। जो अपनी ही पार्टी के खिलाफ बयानबाजी करने के लिए जाने जाते हैं।

इससे पहले सुब्रमण्यम स्वामी कई मुद्दों पर मोदी सरकार द्वारा बनाई गई नीतियों पर भी सवाल खड़े कर चुके हैं। हाल ही में उन्होंने देश में बढ़ रही पेट्रोल डीजल की कीमतों पर भी सरकार को घेरा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + fifteen =