• 666
    Shares

लखनऊः सपा-बसपा गठबंधन का एलान हो चुका है। लखनऊ में अखिलेश यादव और मायावती ने साझा प्रेस कॉन्फ़्रेंस कर कहा कि, दोनों पार्टियाँ लोकसभा चुनाव में 38-38 सीटों पर चुनाव लडेंगी।

अमेठी और रायबरेली की दो सीटें कांग्रेस के लिए छोड़ी गई हैं तो 2 सीटें इस गठबंधन में शामिल होने वाली छोटी पार्टी के लिए।

बसपा सुप्रीमों मायावती ने मीडिया कर्मियों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि ये गठबंधन 2022 के विधानसभा चुनाव में भी क़ायम रहेगा।

गठबंधन के एलान के साथ मायावती ने कहा-

गेस्ट हाउस कांड को भुला कर ये गठबंधन हो रहा है। ये देश हित में किया गया गठबंधन है।

सपा-बसपा जनहित को ध्यान में रखते हुए एक हुए हैं।

इस गठबंधन से कल्याणकारी रास्ते खुलेंगे।

लोकसभा के बाद विधानसभा चुनाव में भी रहेगा ये गठबंधन

ये मोदी-शाह यानी गुरू चेला की नींद उड़ा देने वाली प्रेस कॉन्फ़्रेंस है।

ग़रीबी, भ्रष्टाचार कांग्रेस शासन में बढ़े, ये बीजेपी सरकार में भी जारी है, कार्यशैली में दोनों एक जैसे।

राफ़ेल घोटाले पर बीजेपी को सत्ता गंवानी पड़ेगी।