बीते कुछ समय से महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी और शिवसेना में मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नामकरण को लेकर टकराव चल रहा था।

शिवसेना द्वारा मुंबई एयरपोर्ट का नाम बाला साहब ठाकरे के नाम पर रखे जाने की बात कही जा रही थी। जिसका भाजपा द्वारा विरोध किया जा रहा था।

इसी बीच खबर सामने आई है कि मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर शिवसेना के कार्यकर्ताओं द्वारा तोड़फोड़ की गई है।

जिसकी वजह यह बताई जा रही है कि मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट के नाम की जगह अडानी एयरपोर्ट के नाम का बोर्ड लगाया गया था।

जिसकी भनक लगते ही शिवसेना के कार्यकर्ता भड़क गए। उन्होंने मुंबई एयरपोर्ट पहुंच कर अडानी के नाम के बोर्ड में तोड़ फोड़ की।

दरअसल मुंबई एयरपोर्ट का संचालन अडानी ग्रुप के हाथ में है। अडानी ग्रुप में बीते कुछ सालों में एविएशन सेक्टर में काफी बड़ी इन्वेस्टमेंट की है।

देश के कई इंटरनेशनल एयरपोर्ट का संचालन अडानी ग्रुप द्वारा किया जा रहा है। जुलाई में ही मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट का संचालन पूरी तरह से अडानी ग्रुप के पास आ जाने की खबर सामने आई थी।

सरकार द्वारा अडानी ग्रुप को देश के इंटरनेशनल एयरपोर्ट्स का संचालन सौंपे जाने का विपक्षी दलों द्वारा काफी विरोध किया जा रहा था।

इस मुद्दे पर कांग्रेस नेता राहुल गांधी खासतौर पर कई बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोल चुके हैं। उनका कहना है कि मोदी सरकार अडानी और अंबानी के हाथों देश को बेचने पर तुली हुई है।

मुंबई एयरपोर्ट पर अडानी एयरपोर्ट का बोर्ड लगाने से गुस्साए शिवसेना के कार्यकर्ताओं ने तोड़फोड़ के साथ सरकार का भी जमकर विरोध किया।

शिवसेना का आरोप है कि पहले यह एयरपोर्ट छत्रपति शिवाजी महाराज एयरपोर्ट के नाम से जाना जाता था। लेकिन अब यहां पर अडानी एयरपोर्ट का बोर्ड लगा दिया गया है। यह बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

3 × five =