रिपब्लिक भारत के पत्रकार अर्नब गोस्वामी के व्हाट्सएप चैट लीक मामले में मोदी सरकार भी विपक्षी दलों के निशाने पर है। दरअसल अर्नब गोस्वामी के व्हाट्सएप चैट में हमारे देश के सुरक्षाबलों से जुड़ी कुछ ऐसी गोपनीय जानकारी थी। जो कि सिर्फ देश के कुछ शीर्ष अधिकारियों के पास ही सुरक्षित होती है।

इस मामले में अब महाराष्ट्र की सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना ने भी अपने मुखपत्र सामना में भारतीय जनता पार्टी पर बड़ा आरोप लगाया है।

शिवसेना ने सामना में लिखा है कि पुलवामा में देश के जवानों की हत्या एक राजनीतिक षड्यंत्र था। साल 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को जीतने के लिए भारतीय जनता पार्टी ने 40 जवानों का खून बहाया है।

शिवसेना का कहना है कि अर्नब गोस्वामी ने अपनी व्हाट्सएप चैट में आतंकी हमले में मारे गए 40 जवानों की शहीदी पर जिस तरह से जश्न मनाया है। यह देश और धर्म का अपमान है। राष्ट्रीय सुरक्षा से जुड़ी ऐसी गोपनीय बातें अर्नब गोस्वामी ने सार्वजनिक की है।

जिस पर भाजपा मौन धारण करके बैठी हुई है। आखिर इस पर भारतीय जनता पार्टी के नेता तांडव क्यों नहीं कर रहे हैं।

चीन ने लद्दाख में घुसकर भारत की जमीन पर कब्जा किया। अब अरुणाचल प्रदेश में नया गांव बसा लिया गया है। भाजपा ने इस पर भी चुप्पी साधी हुई है।

शिवसेना ने अर्नब गोस्वामी और भाजपा की सांठगांठ पर कड़े तेवर दिखाते हुए कहा है कि भारत के सैनिकों और उनकी शहादत का जिस तरह से अपमान उनके द्वारा किया गया है। इस तरह से तो कभी पाकिस्तानियों ने भी भारतीय सैनिकों का अपमान नहीं किया है।

इससे पहले कांग्रेस ने भी कल इस मुद्दे पर प्रेस कॉन्फ्रेंस की है। जिसमें पार्टी के आलाकमान नेताओं ने संसद में इस पूरे मामले को उठाने की बात कही है। इसे देशद्रोह करार देते हुए कांग्रेस ने कड़ी कार्रवाई की मांग की।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 + 2 =