sanjay singh
Sanjay Singh Tweet on lathicharge on Jamia Students

संसद द्वारा पास किये गए नागरिकता संशोधन बिल और एनआरसी के खिलाफ जामिया मिलिया इस्लामिया के छात्र विरोध प्रदर्शन कर रहे है। कल रात से ही छात्र वहां प्रदर्शन कर रहे हैं।

हालांकि आज उनका प्रोटेस्ट मार्च जामिया मेट्रो से लेकर संसद भवन तक होने वाला था, लेकिन पुलिस ने बलपूर्वक उन्हें जामिया यूनिवर्सिटी में रोक लिया। जिसका विरोध करने पर पुलिस ने छात्रों पर बर्बरतापूर्ण ढंग से लढ़ियाँ लाठीचार्ज कर दिया। जिसमे कई छात्र-छात्राएं घायल हो गए हैं।

बता दें कि नागरिकता संशोधन बिल को लेकर देश के कई राज्य में विरोध प्रदर्शन हो रहे हैं. वहीं देश की राजधानी दिल्ली में भी लोग सड़कों पर उतरे हैं. जामिया मिलिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी के छात्रों प्रदर्शन कर रहे है।

इस दौरान दिल्ली पुलिस ने छात्रों को प्रदर्शन करने से रोकने के लिए उनपर पहले पानी की बौछार की फिर आंसू गैस के गोले छोड़े। इसके बाद पुलिस ने (Lathicharge on Jamia Students) छात्रों पर लाठीचार्ज किया, जिसमे कई छात्र घायल हो गए हैं।

आपको बता दें कि मोदी सरकार ने जब से नागरिकता संशोधन बिल लायी है। तब से देश के कोने कोने में इसका विरोध चल रहा है। देश के सभी बड़े यूनिवर्सिटी में छात्र इसका खुलकर विरोध कर रहे हैं। जेएनयू और अलीगढ़ यूनिवर्सिटी के छात्र भी इस बिल के विरोध में सड़क पर प्रदर्शन रहे हैं।

इस पुलिसिया दमन की निंदा करते हुए बिहार प्रतिपक्ष और राजद नेता तेजस्वी यादव ने ट्वीट कर कहा- ‘मैं उत्साही जामिया मिलिया इस्लामिया छात्रों पर हमले की कड़ी निंदा करता हूं, जो छात्र संविधान और भारत के विचार की रक्षा करने के लिए विरोध कर संसद की ओर मार्च करने के लिए इकट्ठा हुए हैं’।

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने लिखा- वाह रे दिल्ली पुलिस तुम्हारे पास सिर्फ़ मार पीट के सिवाय अब कोई काम नही कभी वक़ीलों को मारो कभी महिलाओं को मारो कभी दिव्यांग़ों को मारो आज छात्रों को बर्बरता पूर्वक पीट दिया कहाँ हैं गृह मंत्री जी? असम की आग पूरे देश में फैल रही है “रोम जल रहा है नीरो बंसी बजा रहा है”

वहीं इस नागरिकता संशोधन बिल के खिलाफ असम में विरोध प्रदर्शन भी बढ़ता ही जा रहा है। प्रदर्शनकारी धरने पर बैठे हुए हैं। बता दें कि असम में अबतक हिंसा में दो लोगों की मौत हो चुकी है। कई जगहों पर आगजनी की घटनाएं हुई हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here