संसद में चल रहे मानसून सत्र के दौरान देश में फैले कोरोना संक्रमण पर भी चर्चा की गई। राज्यसभा सांसद और आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने कोरोना काल में भाजपा की नीतियों पर सवाल खड़े किए।

उन्होंने सदन में कहा कि इस दौरान सत्ता पक्ष की तरफ से कई आरोप प्रत्यारोप किए गए भाजपा का कहना है कि जब पूरा देश कोरोना को भगाने के लिए ताली और ताली बजा रहा था तो विपक्ष ने साथ नहीं दिया।

संजय सिंह ने कहा कि मुझे दुनिया में हुआ कोई ऐसा एक रिसर्च बता दीजिए। जिसमें यह कहा गया हो कि ताली और थाली बजाने से कोरोना भाग जाएगा।

हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना को ठीक करने के लिए लोगों को ताली और थाली बजाने के लिए कहा। जो कि बहुत ही मूर्खतापूर्ण कृत्य है।

अगर ताली और थाली बजाने से कोरोना संक्रमण ठीक हो सकता है तो पूरा विपक्ष दिनभर ताली और थाली बजाकर रात में दिए भी जलाएगा।

लेकिन इससे एक कोरोना केस ठीक कर के दिखाए। भाजपा चाहती है कि उनके साथ पूरा विपक्ष मूर्ख बनकर इसमें उनका साथ दें। ऐसा कभी नहीं हो सकता।

इसके बाद राजयसभा सांसद संजय सिंह ने पीएम मोदी के उस बयान का हवाला देते हुए योगी सरकार पर गंभीर आरोप लगाए। जिसमें पीएम मोदी ने आपदा को अवसर में बदलने के लिए कहा था।

संजय सिंह ने कहा है कि कोरोना महामारी के इस काल में चाय बनाने वाली कंपनी, कंस्ट्रक्शन कंपनी, स्कूल और कॉलेज में कंपनी और राशन बेचने वाली कंपनी से ऑक्सीमीटर और थर्मामीटर कई सौ गुना महंगे दामों पर खरीदकर योगी सरकार ने महाघोटाला किया है।

भ्रष्टाचार के आरोप में ही भाजपा के एक प्रदेश अध्यक्ष को गिरफ्तार किया गया है। संजय सिंह का दावा है कि उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों में इस ‘आपदा को अवसर’ बनाते हुए घोटाले किए गए हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

fifteen − five =