महाराष्ट्र के अमरावती, नांदेड़ और मालेगांव में हुई हिंसा मामले में भारतीय जनता पार्टी राज्य में सत्तारूढ़ महा विकास आघाडी सरकार पर हमलावर हो रही है।

भाजपा का आरोप है कि शिवसेना अब वो राजनीतिक पार्टी नहीं है। जिसे पार्टी संस्थापक बालासाहेब ठाकरे ने बनाया था।

इस मामले में अब शिवसेना नेता राज्यसभा सांसद संजय राउत ने भी भारतीय जनता पार्टी के आरोपों पर पलटवार किया है।

उन्होंने मीडिया से बातचीत के दौरान कहा है कि इस देश को असली खतरा नकली हिंदुत्ववादी से है।

यह लोग ऐसे हैं कि जब भी देश में चुनाव आते हैं तो एक भी मौका नहीं छोड़ते कि कहीं ना कहीं दंगा हो जाए और माहौल बन जाए।

दशहरे के मौके पर निकाली गई रैली में महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने नकली हिंदुत्ववादियों से सावधान रहने के लिए कहा है और उन्हें चुनौती दी है।

इस दौरान भाजपा नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस द्वारा दिए गए बयान पर भी शिवसेना नेता ने उन्हें जवाब दिया है।

शिवसेना नेता का कहना है कि महाराष्ट्र का हर नागरिक मुख्यमंत्री है। यहां के हर शख्स को लगता है कि मैं मुख्यमंत्री हूं और यह लोकतंत्र की जीत है।

दरअसल भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने हाल ही में अपने भाषण में यह कहा था कि महाराष्ट्र में कोई मुख्यमंत्री है कि नहीं, पता ही नहीं चलता।

आपको बता दें कि महाराष्ट्र के अमरावती में हुई हिंसा मामले में भाजपा नेता अनिल बोंडे समेत 13 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

शिवसेना का आरोप है कि भारतीय जनता पार्टी के नेताओं ने भाजपा कार्यकर्ताओं के साथ मिलकर इस हिंसा को अंजाम दिया है। ताकि राज्य में सत्तारूढ़ महा विकास आघाडी सरकार को अस्थिर किया जा सके।

भाजपा पहले भी कई बार ऐसी की कोशिश कर चुकी है जो कि नाकाम साबित हुई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × one =