देश में बढ़ रही बेरोजगारी को लेकर मोदी सरकार लगातार विपक्षी दलों के निशाने पर बने हुए हैं। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर एक बार फिर से भारत की आर्थिक स्थिति को लेकर हमला बोला है।

मोदी सरकार द्वारा की गई नोटबंदी के 4 साल पूरे होने के मौके पर राहुल गांधी ने एक बार फिर इसे देश के पूँजी पतियों को फायदा पहुंचाने वाला फैसला करार दिया है।

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के इस फैसले ने देश की गरीब जनता को बर्बाद कर दिया।

इसके बाद मोदी सरकार द्वारा लगाए गए लॉकडाउन ने लोगों को बेरोजगार बना दिया है। बड़े पैमाने पर भारत के लोग बेरोजगार हुए हैं। जिसके चलते अर्थव्यवस्था को भी गहरा आघात हुआ है।

आपको बता दें कि वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में जीडीपी की दर में 23.9 फीसदी की गिरावट हुई है।

आरबीआई की रिपोर्ट के मुताबिक, 2020-21 की पहली छमाही में भारत अपने इतिहास में पहली बार आर्थिक मंदी के दौर में पहुंच चुका है। अब दूसरी तिमाही में जीडीपी की दर -8.6% सिकुड़ गई है।

बताया जा रहा है कि पूरे वित्तीय वर्ष में विकास दर -9.5 फीसदी तक नीचे जा सकती है। आरबीआई ने आशंका जाहिर की है कि भारत की अर्थव्यवस्था को दोबारा पटरी पर आने में अभी एक या दो साल का वक़्त लग सकता है।

इस मामले में कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने ट्वीट कर कहा है कि “भारत इतिहास में पहली बार आर्थिक मंदी की चपेट में आ गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की ताकत को कमजोरी में बदल दिया है।”

कांग्रेस का आरोप है कि मोदी सरकार द्वारा लिए गए फैसलों के कारण विकास दर में सुस्ती का यह दौर इतना लंबा जा सकता है। इससे पहले भी राहुल गाँधी कई बार गिर रही अर्थव्यवस्था को लेकर मोदी सरकार पर हमलावर होते रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × 2 =