• 1.5K
    Shares

हिमाचल प्रदेश के BJP प्रदेश अध्यक्ष सतपाल सत्ती ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी पर बेहद भद्दी टिपण्णी करते हुए ‘माँ’ की गाली दे डाली। उनका ये बयान इसलिए क्योंकि विपक्षी दल के नेताओं में राहुल गांधी ही वो नेता है जो ‘चौकीदार चोर है’ का नारा अपनी हर रैली में बार बार कहते नज़र आते है। जिसके जवाब में बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष को सिर्फ गाली ही देना पलटवार समझ आया।

चुनाव आयोग की गाड़ी में मिली ‘मैं भी चौकीदार’ की टोपी, क्या EC भी भाजपा का ‘चौकीदार’ बन गया है?

इन बयानों पर पत्रकार पुण्य प्रसून बाजपेयी ने सोशल मीडिया पर अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने लिखा- गाली-गलौज, अपशब्द-अश्लीलता को लेकर मीडिया से लेकर चुनाव आयोग जाग जाता है। संविधान ख़ारिज हो तब चुनाव आयोग नहीं जागता। सत्ता जनतंत्र को धनतंत्र में बदल दें तब मीडिया नहीं जागता। मेरा भारत बदल रहा है शिक्षा नीति है नहीं और सभी को शिक्षा देगें।

पत्रकार का सवाल भी वाजिब है क्योंकि जब प्रदेश की सत्ता पर काबिज़ नेता पर ही बैन लगा दिया जाये वो भी 72 घंटों के लिए ऐसे में सबसे बड़ा सवाल यही है ऐसे लोगों के हाथों में शिक्षा व्यवस्था को कैसे बेहतर बनाया जा सकता है? ये सबसे बड़ा सवाल है।

कमल पर ही वोट देना क्योंकि पोलिंग बूथ पर कैमरा लगा है, मोदी जी सब देख रहे हैं : BJP MLA

बता दें कि ‘अली-बजरंग बली’ बयान पर विवाद पर चुनाव आयोग ने योगी आदित्यनाथ पर तीन दिन तक जनसभा या भाषण देने पर रोक लगा रखी दी है। वहीं बसपा सुप्रीमो मायावती और केंद्रीय मंत्री मेनिका गांधी और साथ ही समाजवादी पार्टी के नेता आज़म खान पर भी आयोग ने एक्शन लिया है।