बीते कुछ दिनों से देश में बढ़ रही महंगाई को लेकर मोदी सरकार पर विपक्षी दलों ने हल्ला बोला हुआ है। देश की जनता इस बढ़ रही महंगाई की वजह से बेहाल है। रोजमर्रा के सामान की कीमतें आसमान छू रही हैं।

लेकिन प्रधानमंत्री मोदी के करीबी पूंजीपतियों की कोरोना काल से लेकर अब तक खूब चांदी हो रही है।

भाजपा के शासनकाल में देश के विकास की जगह अम्बानी और अडानी ग्रुप का खूब विकास हो रहा है।

अब खबर सामने आई है कि भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में लखनऊ के अमौसी एयरपोर्ट का संचालन सरकार ने अदानी ग्रुप को सौंप दिया है।

बताया जा रहा है कि अडानी ग्रुप के साथ भाजपा सरकार ने यह करार 50 साल तक के लिए किया है।

जिसके तहत शुरूआती तीन साल तक अब अडानी ग्रुप के अधिकारी ही एयरपोर्ट प्रशासन के साथ काम करेंगे। प्रबंधन से लेकर वित्तीय मामलों तक हर तरह के फैसले अब अडानी ग्रुप द्वारा ही लिए जाएंगे।

इस मामले में कांग्रेस की महासचिव और पार्टी नेता प्रियंका गांधी ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि “भाजपा का जनता को दिवाली का गिफ्ट: भयंकर महंगाई, भाजपा का अपने पूंजीपति मित्र को दीवाली गिफ्ट : 6 एयरपोर्ट। पूजीपतियों का साथ, पूंजीपतियों का विकास।”

गौरतलब है कि मोदी सरकार देश में सरकारी संस्थानों के किए जा रहे निजीकरण को लेकर पहले से ही विपक्षी दलों के निशाने पर है। भाजपा की इस तरह की जनविरोधी नीतियों का सबसे बुरा असर मजदूर और गरीब वर्ग पर पड़ रहा है।

इस निजीकरण की वजह से गरीबों को भयंकर महंगाई और गरीबी का सामना करना पड़ सकता है।

इससे पहले राहुल गाँधी ने कहा है कि मोदी सरकार देश में अनावश्यक निजीकरण कर रही है। जिससे देश की सरकारी पूँजी नष्ट हो रही है। निजीकरण से सिर्फ अमीर पूंजीपतियों का विकास हो रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + seventeen =