चुनाव आयोग द्वारा देश में होने वाले पांच राज्यों के विधानसभा चुनाव की तारीखों का ऐलान कर दिया गया है। इस बार पश्चिम बंगाल में आठ चरण में मतदान होने वाला है।

8 चरणों में होने वाले यह चुनाव 27 मार्च से लेकर 29 अप्रैल तक डाले जाएंगे। इसके बाद 2 मई को परिणाम घोषित होंगे।

आपको बता दें कि चुनाव आयोग द्वारा पश्चिम बंगाल में चुनाव की तारीखों की घोषणा किए जाने के बाद प्रशांत किशोर का बड़ा बयान सामने आया है।

दरअसल पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव में प्रमुख रणनीतिकार बने प्रशांत किशोर ने कहा है कि भारत में लोकतंत्र के लिए पश्चिम बंगाल में बड़ी लड़ाई लड़ी जाएगी।

इस संदर्भ में प्रशांत किशोर ने ट्विटर पर ट्वीट कर कहा है कि बंगाल सिर्फ अपनी बेटी चाहता है। बंगाल के लोग अपने संदेश के साथ पूरी तरह तैयार हैं और अपने राइट कार्ड दिखाने के लिए पूरी तरह दृढ़ संकल्पित है।

इतना ही नहीं उन्होंने अपने एक पुराने ट्वीट पर टिके रहने की बात भी कही है। दरअसल इस ट्वीट में प्रशांत किशोर द्वारा दावा किया गया था कि पश्चिम बंगाल में भारतीय जनता पार्टी को 99 से ज्यादा सीटें नहीं मिलेंगी।

प्रशांत किशोर ने यह भी दावा किया था कि अगर भाजपा इससे ज्यादा सीटें हासिल करती है तो वह चुनावी रणनीतिकार का काम छोड़ देंगे।

बता दें, केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने पश्चिम बंगाल विधानसभा में बहुमत से जीत हासिल करने का दावा किया है।

गौरतलब है कि साल 2019 में हुए लोकसभा चुनाव में भाजपा ने पश्चिम बंगाल में 18 सीटों पर जीत हासिल की थी। जिसके बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने प्रशांत किशोर की कंपनी को उनके लिए काम करने के लिए हायर किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

7 + six =