सोशल मीडिया पर तनिष्क के विज्ञापन के विरोध के बाद कंपनी द्वारा इसे हटाए जाने के फैसले पर अब बहस छिड़ चुकी है। सोशल मीडिया पर एक बड़ा धड़ा तनिष्क के इस विज्ञापन के खिलाफ था। जिसकी वजह से बॉयकॉट तनिष्क हैशटैग ट्रेंड हुआ।

वहीँ सोशल मीडिया पर कुछ लोग टाटा समूह द्वारा उठाए गए इस कदम को गलत बता रहे हैं।

इनका कहना है कि कंपनी को इस तरह से घुटने नहीं टेकने चाहिए थे। माना जा रहा है कि इस विज्ञापन के ख़िलाफ़ ये एक सोची समझी रणनीति के तहत किया गया है।

इसी बीच सोशल मीडिया पर एक और चर्चा शुरू हो गई है। दरअसल कंपनी के विज्ञापन के खिलाफ ट्विटर पर बॉयकॉट तनिष्क हैशटैग शुरू करने वाले शख्स को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह फॉलो करते हैं। इस शख्स का नाम हार्दिक भवसार है।

ट्विटर पर अगर आप इस शख्स की प्रोफाइल देखेंगे तो इसने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी फोटो लगा रखी है। इस मामले में इंडिया टीवी के पूर्व मैनेजिंग एडिटर अजीत अंजुम ने ट्वीट कर पीएम मोदी और अमित शाह पर सवाल खड़े किए हैं।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा है कि “ये रिश्ता क्या कहलाता है? #BoycottTanishq की मुहिम चलाने वाले को प्रधानमंत्री और गृहमंत्री फॉलो करते हैं”

गौरतलब है कि ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि सोशल मीडिया पर सांप्रदायिक जहर फैलाने वाले किसी शख्स को पीएम मोदी या भाजपा के शीर्ष नेताओं द्वारा फॉलो किया गया हो। इससे पहले भी ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं।

इससे पहले दिवगंत पत्रकार गौरी लंकेश के बारे में आपत्तिजनक ट्वीट करने वाले और भद्दी गालियां देने वाले शख्स को भी पीएम मोदी फॉलो कर रहे थे। इस बात को लेकर मोदी सरकार की जमकर आलोचना भी हुई थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 10 =