नॉर्वे में कोरोना के नियमों का पालन नहीं करने पर पीएम एरना सोलबर्ग पर जुर्माना लगा दिया गया है। ये जुर्माना नॉर्वे पुलिस ने लगाया है।

पीएम सोलबर्ग ने अपने जन्मदिन पर पारिवारिक कार्यक्रम का आयोजन किया था। इस आयोजन में जमकर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई गईं।

पुलिस को जैसे ही इसकी सूचना मिली, पीएम सोलबर्ग पर तत्काल कार्रवाई की गई और 2352 अमेरिकन डॉलर का जुर्माना लगा दिया गया है। भारतीय मुद्रा में जुर्माने की यह रकम 1 लाख 75 हजार रुपये होती है।

वहीं नॉर्वे की प्रधानमंत्री पर हुई इस कार्रवाई पर भारत में भी चर्चाओं का बाजार गर्म है। भारत के लोग इस कार्रवाई की मुक्त कंठ से प्रशंसा कर रहे हैं और ऐेसी ही कार्रवाई भारत में भी करने की मांग कर रहे हैं।

मालूम हो कि भारत में भी एक बार फिर से कोरोना अपना खौफनाक चेहरा दिखा रहा है। कोरोना के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। इस दौरान भारत के पांच राज्यों में विधानसभा चुनाव चल रहे हैं।

ऐसे में देश के लोगों को जागरुक करने की बजाय भारत के प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, तमाम केंद्रीय मंत्री और राज्यों के मुख्यमंत्री धड़ल्ले से धुआंधार चुनाव प्रचार में लगे हुए हैं।

आम आदमी का गुस्सा भारत के नेताओं पर इस कदर बढ़ता जा रहा है कि लोग सोशल मीडिया पर इन्हें अभद्र गालियां देते हुए वीडियो पोस्ट कर रहे हैं।

कोरोना के इस विकट दौर में आम आदमी की मदद और अपने दायित्वों को कुशलतापूर्वक अंजाम देने की बजाय प्रधानमंत्री, गृहमंत्री, तमाम केंद्रीय मंत्री और राज्यों के मुख्यमंत्री चुनावी राज्यों में डेरा डाले हुए हैं और प्रचार में व्यस्त हैं।

इतना ही नहीं प्रधानमंत्री हो या गृहमंत्री। न इनकी रैलियों में कोई सोशल डिस्टेंसिंग होता है और नहीं ये खुद मास्क पहनते हैं। ऐसा लगता है कि ये लोग किसी दूसरे देश के निवासी हैं और इन पर कोई भी भारतीय कानून लागू नहीं होता।

वरिष्ठ पत्रकार कादंबिनी शर्मा लिखती हैं कि कैसे नाशुक्रे लोग हैं, कोरोना प्रोटोकॉल का पालन नहीं करने के कारण नार्वे में देश की पीएम पर जुर्माना लगा दिया गया. विश्व गुरु से कुछ तो सीखना चाहिए !

यही वजह है कि लोग पूछ रहे हैं कि नार्वे की प्रधानमंत्री पर जिस प्रकार से कोरोना के नियमों का पालन नहीं करने की वजह से कार्रवाई हुई है, क्यों नहीं वैसी ही कार्रवाई भारत के प्रधानमंत्री पर होनी चाहिए।

आखिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैलियों में भी तो कोरोना के नियमों का उल्लंघन हो ही रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twenty − 4 =