देश में सत्तारूढ़ मोदी सरकार सरकारी कंपनियों के निजीकरण में जुटी हुई है। रेलवे से लेकर हवाई अड्डों तक का निजीकरण किया जा रहा है। हाल ही में केंद्र सरकार ने ये संकेत दे डाला है कि आने वाले वक़्त में इस निजीकरण में बढ़ोतरी होगी।

इसी बीच केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री हरदीप सिंह पुरी का बयान चर्चा का विषय बन गया है। उन्होंने कहा कि “सरकार को एयरपोर्ट और एयरलाइंस नहीं चलानी चाहिए।”

इसके साथ ही उन्होंने सरकारी कंपनी एयर इंडिया के निजीकरण किए जाने की भी आशंका जाहिर की है। दरअसल हरदीप सिंह पुरी ने नमो ऐप पर एक मीटिंग को संबोधित करते हुए बड़ा बयान दिया है।

उन्होंने कहा है, ‘मैं आपको अपने दिल से यह कहना चाहता हूं कि सरकार को हवाई अड्डों का संचालन नहीं करना चाहिए और न ही हवाई जहाज चलाने चाहिए।’

अब इस मामले में कवि और नेता डॉक्टर कुमार विश्वास ने भी अपनी प्रतिक्रिया जाहिर की है। उन्होंने हरदीप सिंह के बयान का हवाला देते हुए ट्वीट किया है।

उन्होंने लिखा है कि “बिल्कुल सही, जब सर्वशक्तिमान भगवान खुद हमारे देश को चला रहा है तो हम राष्ट्रीय हवाई अड्डों, राष्ट्रीय रेलवे, राष्ट्रीय बंदरगाहों, विश्वविद्यालयों, राष्ट्रीय राजमार्गों, अस्पतालों, बिजली कंपनियों और सभी को क्यों चलाएं? यहां तक कि सरकार को भी हमारी सरकार नहीं चलानी चाहिए। भारत माता की जय”

गौरतलब है कि हाल ही में केरल सरकार द्वारा तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डे के निजीकरण का विरोध किया गया है। आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने तिरुवनंतपुरम हवाई अड्डे को सार्वजनिक निजी भागीदारी के तहत 50 साल तक के लिए अडानी इंटरप्राइजेज को लीज़ पर देने की मंजूरी दी थी।

जिसपर केरल के मुख्यमंत्री ने ऐतराज़ जताया था। इसका विरोध करते हुए मुख्यमंत्री पिन्नाराई विजयन ने पीएम मोदी को खत भी लिखा था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

20 − 15 =