मोदी सरकार के नए कृषि कानूनों के ख़िलाफ़ बिहार में भी प्रदर्शन शुरु हो गए हैं। राजधानी पटना सहित कई जिलों में बुधवार को वाम दलों के कार्यकर्ता सड़कों पर उतरे और केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की।

पटना में हुए प्रदर्शन में सीपीआई नेता और जेएनयू के पूर्व छात्रसंघ अध्यक्ष कन्हैया कुमार भी शामिल हुए।

इस प्रदर्शन की कन्हैया ने ट्विटर पर तस्वीरें भी शेयर की हैं। उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर ज़ोरदार हमला बोलते हुए लिखा, “जिन धन्नासेठों के साथ साहेब ने अपने ज़मीर का सौदा किया है, उनके हाथ में अब वो किसानों की ज़मीन सौंपना चाहते हैं। पूरा देश आज किसानों के साथ खड़ा है। पटना की जनता ने भी आज किसानों के पक्ष में अपनी आवाज़ बुलन्द की”।

इससे पहले प्रदर्शन के दौरान भी कन्हैया मोदी सरकार पर जमकर बरसे। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार किसानों को बदनाम करने की कोशिश कर रही है। उन्हें कोई भड़का नहीं रहा। किसान अपने हितों के लिए खुद ही डटे हुए हैं।

पीएम मोदी पर तंज़ कसते हुए कन्हैया ने कहा कि अगर किसान मशरूम की खेती नहीं करेगा तो मोदी जी का गाल टमाटर की तरह लाल टुहटुह जैया कैसे होगा।

कन्हैया ने कहा कि बिहार में भी किसानों की हालत अच्छी नहीं है, किसी भी फसल की खरीद एमएसपी पर नहीं होती है। उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि किसानों की बात नहीं मानी गई तो बिहार के किसान भी दिल्ली कूच करेंगे।

पीएम मोदी के किसानों को भड़काने वाले बयान पर कन्हैया कुमार ने कटाक्ष करते हुए कहा कि पीएम को लगता है कि सिर्फ वही बुद्धिमान हैं और सभी मूर्ख।

बुनियादी आंदोलन को कमजोर करने के लिए ऐसा बयान दिया जा रहा है। किसान हमारा पेट पालते हैं, वो किसी की बातों में नहीं आ सकते।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

ten + 1 =