जम्मू-कश्मीर में बीते कुछ दिनों में कई आतंकी घटनाएं घट चुकी हैं। बीते दो दिनों में आतंकवादियों ने पांच बड़ी घटनाओं को अंजाम दिया है।

जिससे एक बार फिर घाटी के लोगों में डर का माहौल है। बीते 2 दिनों के अंदर ही आतंकियों द्वारा पांच नागरिकों को मारा जा चुका है।

इससे पहले 5 अक्टूबर को भी कश्मीर में तीन अलग-अलग जगहों पर आतंकियों ने 3 लोगों को मौत के घाट उतारा था।

गुरुवार को सफाकदल इलाके में सरकारी स्कूल में घुसकर आतंकियों ने 2 शिक्षकों पर गोलियां बरसाईं हैं। आतंकियों द्वारा मारे गए नागरिकों में से चार अल्पसंख्यक समुदाय के हैं

इस मामले में स्थानीय प्रशासन और केंद्र सरकार विपक्षी दलों के निशाने पर आ गई है। देश के गृहमंत्री अमित शाह सवालों के कटघरे में आ खड़े हुए हैं।

कांग्रेस द्वारा कश्मीर में घट रही इस तरह की घटनाओं के लिए गृह मंत्रालय को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है।

कांग्रेस द्वारा मांग की जा रही है कि सरकार कश्मीर के नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित करें।

इस मामले में कांग्रेस नेता कन्हैया कुमार ने मोदी सरकार पर निशाना साधा है। उन्होंने ट्वीट किया- आतंकियों द्वारा कश्मीर में लगातार आम नागरिकों की निर्मम हत्याएँ की जा रही हैं। घाटी में सुरक्षा और शांति को लेकर सरकार के तमाम दावे अभी तक हवा-हवाई साबित हुए हैं।

बिना किसी लाग लपेट के आम नागरिकों की सुरक्षा सुनिश्चित की जानी चाहिए अन्यथा अक्षम गृह-मंत्री को इस्तीफ़ा देना चाहिए।

बताया जा रहा है कि देश के गृहमंत्री अमित शाह ने कश्मीर की सुरक्षा के इंतजामों की समीक्षा की है।

गृह मंत्री अमित शाह ने अधिकारियों को निर्देश जारी किए हैं कि घाटी में हो रही इन हत्याओं के आरोपियों को जल्द से जल्द पकड़ा जाए। ताकि इस तरह की घटनाओं पर रोक लगाई जाए सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

twelve + 7 =