भारत के मशहूर कॉमेडियन और अभिनेता वीर दास द्वारा अमेरिका के वॉशिंगटन डीसी में पढ़ी गई एक कविता भारत में नया विवाद बन चुकी है।

जिसका शीर्षक है – ‘आई कम फ्रॉम टू इंडियाज़’ यानी मैं दो भारत से आता हूँ।

इस कविता के लिए कॉमेडियन वीर दास के खिलाफ मुंबई में एफआईआर भी दर्ज करवा दी गई है।

वीर दास पर आरोप है कि उन्होंने देश के खिलाफ अभद्र टिप्पणी कर भारत की संस्कृति को बदनाम करने का काम किया है।

सोशल मीडिया पर भाजपा समर्थक और कई संगठन वीर दास को देशद्रोही बताने पर तुले हुए हैं। उनपर कड़ी कार्रवाई किए जाने की मांग की जा रही है।

विवाद बढ़ता हुआ देखा वीर दास ने सोशल मीडिया के जरिए माफी मांगते हुए कहा है कि उनका इरादा देश का अपमान करने का बिल्कुल भी नहीं था। बल्कि सिर्फ यह दर्शाने का था कि भारत अपने तमाम मुद्दों के बाद भी महान है।

इस मामले में एनडीटीवी के पत्रकार सौरभ गुप्ता ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए वीर दास का समर्थन किया है।

उन्होंने ट्वीट किया है कि “मैं एक ऐसे भारत से आया हूँ जहाँ… कंगना रनौत ने हमारी आजादी को ‘भीख’ कहा, गांधी का मजाक उड़ाया और कहा ‘अहिंसा’ से आपको ‘भीख’ मिलेगी और भाजपा सरकार उन्हें राजकीय सम्मान देती रहती है।

लेकिन वीर दास भारत के दोहरे चरित्र का मजाक उड़ाता है और हम उस पर आतंकवाद विरोधी कानूनों के तहत केस करना चाहते हैं।

गौरतलब है कि फिल्म अभिनेत्री कंगना रनौत एक के बाद एक देश के स्वतंत्रता सेनानियों के लिए अपमानजनक बयान देती जा रही है। लेकिन मोदी सरकार द्वारा उन्हें पदम श्री अवार्ड से नवाजा गया है।

दूसरी तरफ महज भारत के दोहरे चरित्र को दर्शाने की कोशिश करने वाले एक कॉमेडियन पर देशद्रोह का केस दर्ज करने की मांग की जाती है। जबकि कंगना रनौत पर कोई कार्रवाई नहीं की गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eight − two =