दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस की वरिष्ठ नेता शीला दीक्षित का आज शनिवार को 81 वर्ष की आयु में दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह लंबे से बीमार चल रही थीं।

जानकारी के मुताबिक, तबियत खराब होने के बाद शनिवार की सुबह शीला दीक्षित को दिल्ली के एस्‍कॉर्ट अस्‍पताल में भर्ती कराया गया था। जहां तकरीबन 3ः30 बजे उन्होंने अंतिम सांसे लीं।

कांग्रेस नेता अहमद पटेल ने बताया कि एक से डेढ़ घंटे में उनके पार्थिव शरीर को घर पहुंचाया जायेगा। उसके बाद कल सुबह यह तय किया जायेगा कि पार्थिव शरीर को कांग्रेस हेडक्वार्टर में कब रखा जायेगा और कितने बजे निगम बोध घाट के लिए अंतिम यात्रा शुरू की जायेगी।

शीला दीक्षित दिल्ली की सबसे ज़्यादा लंबे समय तक मुख्यमंत्री रहीं। वह 1998 से 2013 तक तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रहीं। वह 2014 में केरल की राज्यपाल भी बनीं।

मौजूदा वक्त में उनके पास कांग्रेस के दिल्ली अध्यक्ष पद की जिम्मेदारी भी थी। हाल ही में संपन्न हुए लोकसभा चुनावों में वो उत्तर पूर्वी दिल्ली से चुनाव भी लड़ीं थी, लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here