सत्तारूढ़ भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेताओं के ख़िलाफ़ किसानों का ग़ुस्सा बढ़ता ही जा रहा है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहरलाल खट्टर के बाद अब बीजेपी के वरिष्ठ नेता मनोरंजन कालिया को पंजाब के बठिंडा में किसानों के आक्रोश का सामना करना पड़ा।

यहां किसानों ने बीजेपी नेता का इस तरह विरोध किया, जिसके चलते उन्हें अपना कार्यक्रम बीच में रोककर ही वापस लौटना पड़ा।

दरअसल, मनोरंजन कालिया शनिवार को नगर निगम चुनाव को लेकर बीजेपी नेताओं से चर्चा के लिए बठिंडा आए थे।

वह इसी सिलसिले में मित्तल माल के नजदीक स्थित एक होटल में बैठक कर रहे थे। तभी अचानक वहां किसान पहुंच गए और उन्होंने बीजेपी नेता के ख़िलाफ़ प्रदर्शन शुरु कर दिया।

बताया जा रहा है कि कार्यक्रम स्थल पर विरोध के लिए किसान न पहुंच सकें, इसके लिए पुलिस ने पुख्ता इंतेज़ाम किए थे। किसानों को होटल से दूर रखने के लिए 500 पुलिसकर्मियों के साथ मज़बूत बैरीकेड लगाए गए थे।

लेकिन ये बैरीकेड किसानों के गुस्से के आगे बौने नज़र आए। किसान बैरीकेड तोड़कर होटल के अंदर पहुंच गए। जिसके चलते बीजेपी नेता को बैठक को बीच में रोककर वहां से वापस लौटना पड़ा।

पुलिस ने किसी तरह बैठक में शामिल होने आए मनोरंजन कालिया को होटल के पिछले दरवाजे से बाहर निकाला। जिसके बाद वह वापस जालंधर के लिए रवाना हो गए।

प्रदर्शन कर रहे किसानों ने कहा कि जब तक केंद्र की बीजेपी सरकार नए कृषि कानूनों को वापस नहीं ले लेती, तब तक बीजेपी नेताओं का विरोध इसी तरह जारी रहेगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

five × three =