delhi violence
Delhi Violence

दिल्ली हिंसा के पीड़ितों की मदद के लिए अब दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड आगे आया है। हिंसा में जलाए गए मकानों और दुकानों को फिर से बनाने के लिए वक़्फ़ बोर्ड ने 50 लाख रुपए जारी किए हैं। इस बात की जानकारी बोर्ड के अध्यक्ष अमानतुल्लाह खान ने ट्विटर के ज़रिए दी।

उन्होंने ट्वीट कर लिखा, “दिल्ली में हुए फ़साद में जिन लोगों की दुकान और मकान जला दिए गए वो किसी भी मज़हब से हों उनको पूरी तरह से रिपेयर करने का काम दिल्ली वक़्फ़ बोर्ड की कंस्ट्रक्शन कमेटी कल से शुरू कर देगी इस कमेटी को मैंने काम शरू करने के लिए 50 लाख रुपये आज दे दिए हैं”।

बता दें कि दिल्ली के पूर्वी इलाके में हुए दंगो कि वजह से भारी जान माल का नुकसान हुआ है। आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक इन दंगों में अब तक 53 लोगों की मौत हो चुकी है, वहीं 200 से ज़्यादा लोग घायल हैं। दंगों में सैंकड़ों मकानों और दुकानों को लूटकर जलाया गया है।

ब्रिटिश संसद को दिल्ली हिंसा पर चर्चा के लिए वक़्त मिल गया, लेकिन भारतीय सदन को नहीं, ये शर्मनाक हैः शशि

इन इलाकों में दंगों के बाद इतनी दहशत है कि लोग अपने मकानों में वापस नहीं जा रहे और शिविर कैंपों में रहने के लिए मजबूर हैं। स्थिति को देखते हुए राहत कार्य भी जारी हैं। दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने पीड़ितों को आंशिक मदद देकर इस घटना से उभारने कि कोशिश की है। हालांकि सरकार की मदद को नाकाफी बताया जा रहा है। जिसके बाद अब वक़्फ़ बोर्ड ने पीड़ितों के पुनर्वास की ज़िम्मेदारी उठा ली है।

मीडिया से बात करते हुए अमानतुल्लाह खान ने बताया कि वक़्फ़ बोर्ड की तरफ़ से निर्माण कार्य का काम देखने वाली कमिटी को 50 लाख रुपये दे दिए गए हैं। फिलहाल गोकलपुरी की टायर मार्केट की दुकानों से शुरुआत की जा रही है, जिसमें कुल 224 दुकानें हैं। कमिटी ने काम शुरू कर दिया है और लिस्ट बना ली है जिसमें हर तबके के लोगों की दुकानें हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

seventeen − thirteen =