आज शाम कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का निधन हो गया। आज तक के डिबेट शो दंगल में संबित पात्रा और रोहित सरदाना से जोरदार बहस करने के बाद राजीव त्यागी की तबीयत खराब हो गई। उन्हें अस्पताल ले जाया गया लेकिन बचाया नहीं जा सका। उनकी मौत की वजह कार्डिक अरेस्ट बताई जा रही है।

राजीव त्यागी के निधन की खबर मिलते ही तमाम नेता और पत्रकार अपनी प्रतिक्रियाएं देने लगे हैं।

जहां एक तरफ राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने ट्वीट करते हुए शोक जाहिर किया है वहीं आरजेडी प्रवक्ता मनोज झा ने इस मौत का जिम्मेदार टीवी चैनलों पर हो रही जहरीली डिबेट को बताया है।

प्रोफेसर मनोज झा ने लिखा- ‘प्रिय टीवी चैनल्स के मालिकों! #राजीवत्यागी जी के दुखद अवसान से ठीक पहले की एक डिबेट अभी देखी. हाथ जोड़कर विनती करता हूँ कि इस तरह ‘नफरत/घृणा की फसल’ वाली डिबेट को विराम दीजिये. ये मुल्क जिंदा नहीं बचेगा..कोई भी भी नहीं बचेगा.’

इसी तरह मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए स्वतंत्र पत्रकार अभिषेक श्रीवास्तव फेसबुक पर लिखते हैं- ‘आज का टीवी हिंदुस्तान को सिर्फ़ तबाह करने के लिए ऑन एअर होता है’!

जिस दिन प्रभाष जी टीवी देखते हुए निकल लिए थे, मैंने सोचा था कि कोई दिन ऐसा आएगा जब स्टूडियो के भीतर बैठा आदमी सदमे में मारा जाएगा। आज राजीव त्यागी आजतक पर रोहित सरदाना के शो में बहस करते हुए दिल के दौरे का शिकार हुए और उनकी मौत हो गयी।

सम्बित पात्रा ने उन्हें ट्वीट कर के श्रद्धांजलि दी है, जो घंटे पर पहले त्यागी को जयचंद जयचंद कह कर उनके माथे पर लगे लाल टीके का मज़ाक उड़ा रहे थे। मज़ाक मज़ाक में लोग मर रहे हैं। सौ साल में इससे जहरीला आविष्कार इंसानियत ने नहीं किया। दुनिया के सारे बम एक तरफ, टीवी एक तरफ।

मज़ाहिया बहसें अब बंद होनी चाहिए। टीवी की मौत अब हो ही जानी चाहिए। टीवी रहा, तो सबको निगल जाएगा एक एक कर के। सब मारे जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

17 + twelve =