गुजरात में चुनाव नजदीक आते ही नेताओं का गुजरात आना-जाना, आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति बढ़ गई है। एक सभा में कांग्रेस पार्टी के अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री मोदी को झूठों का सरदार बताया तो वहीँ दो दशकों से भी अधिक सत्ता पर काबिज़ रही बीजेपी अभी भी कांग्रेस पार्टी को गुजरात का विकास न होने का ज़िम्मेदार बता रही है।

अगले महीने गुजरात में मतदान है, एक तरफ 27 सालों से गुजरात की सत्ता पर बीजेपी काबिज़ है।

1998 से चुनाव दर चुनाव बीजेपी गुजरात में अजय साबित हो गई है, या फिर कहें कि 27 सालों से गुजरात की राजनीति एक व्यक्ति नरेंद्र मोदी के आसपास ही घूमती रही है तो ये कहना गलत नहीं होगा। तो वहीँ कांग्रेस इतने सालो से गुजरात की सत्ता में आने के कोशिश कर रही है।

गुजरात की एक सभा को संबोधित करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को झूठों का सरदार बताया है। उन्होंने कहा कि “मोदी और अमित शाह अक्सर ये पूछते हैं कि कांग्रेस ने 70 सालों में क्या किया?

इसका जवाब देते हुए खड़गे बोले- “अगर 70 साल कांग्रेस न होती तो आप लोकतंत्र न पाते।”

दामोदर संजीवैया, जगजीवन राम के बाद कांग्रेस पार्टी के तीसरे दलित अध्यक्ष बने मल्लिकार्जुन खड़गे ने पीएम मोदी को घेरते हुए कहा कि “मोदी जी हमेशा बोलते हैं मैं गरीब हूँ, अरे हम भी गरीब हैं। हम तो गरीब से भी गरीब हैं, हम तो अछूतों में आते हैं कम से कम आपकी चाय तो कोई पीता है मेरी तो चाय भी नहीं पीता कोई”

उन्होंने कहा, अगर आप गरीब का रोना रोकर हमदर्दी चाहते हैं तो लोग अब होशियार हो गए हैं बेवक़ूफ़ नहीं हैं एक बार झूठ बोलेंगे तो लोग सुन लेंगे, दो बार बोलेंगे तो भी लोग सुन लेंगे लेकिन कितनी बार बोलेंगे, झूठ पर झूठ, ये झूठों के सरदार हैं और ऊपर से बोलते हैं कि कांग्रेस ने देश को लूटा है।

गुजरात में 1 दिसंबर और 5 दिसंबर को मतदान होना है और हिमाचल के साथ 8 दिसंबर को परिणाम आने हैं। अब देखना होगा कि गुजरात की जनता 27 साल बाद भी बीजेपी को अजय बनाए रखेगी या इस बार जीत कांग्रेस की होगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here