आज देशभर में दिवाली का त्यौहार मनाया जा रहा है। कोरोना महामारी के कारण इस बार देश में दिवाली की उस तरह की धूम देखने को नहीं मिल रही है। जैसी हर साल होती रही है।

इस साल कोरोना महामारी की वजह से लोगों के रोजगार पर भी प्रतिकूल प्रभाव पड़ा है।

जहाँ कोरोना महामारी की वजह से लोगों ने अपनी जान खोई। वहीँ कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन की वजह से देश के लाखों लोगों ने जहां अपनी नौकरियां भी खोई है। आज देश आर्थिक मंदी और बेरोजगारी के दौर से गुजर रहा है।

दिवाली के मौके पर एक रिपोर्ट सामने आई है। जिसमें आरबीआई ने दावा किया है कि इतिहास में पहली बार मोदी सरकार के कार्यकाल में भारत आर्थिक मंदी के दौर में जा पहुंचा है। इस मामले में विपक्ष के कई बड़े नेताओं ने पीएम मोदी को निशाने पर लिया है।

इस मामले में कांग्रेस नेता श्रीवत्स ने कोरोना महामारी के दौरान मरने वाले लोगों को याद करते हुए ट्वीट किया है।

उन्होंने लिखा है कि “इस दीपावली, आइए याद करें 1,30,000 भारतीयों को जिन्हे हमने इस भयानक महामारी के दौरान खो दिया। जब हम दिवाली मना रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ वे लोग उस पीड़ा से निकल रहे हैं।

जिन्होंने जो अपने प्रियजनों को खो चुके हैं और जिन्होंने अपनी आजीविका खो दी है। आइए उनके जीवन को फिर से रोशन करने में मदद करने की प्रतिज्ञा करें।”

इससे पहले भी कई बड़े नेता सामाजिक संगठन देश के मजदूरों और गरीब वर्ग के लोगों की मदद के लिए सामने आए हैं। जो मोदी सरकार की वजह से अपना रोजगार गंवा चुके हैं।

इससे पहले कांग्रेस नेता अजय कुमार लल्लू ने भी यह सवाल उठाए थे कि जब लोगों की जेब में पैसा ही नहीं होगा तो वह दिवाली कैसे मना पाएंगे। देश के नौजवान, किसान, बुनकर और मजदूर रोजी रोटी के लिए तरस रहे हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

9 + 4 =