• 282
    Shares

हरियाणा के करनाल में पुलिस ने छात्रों पर जमकर लाठियां बरसाई। इसकी वजह थी सड़क पर एक छात्र का हरियाणा रोडवेज की चपेट में आ जाना। इस हादसे के बाद स्टूडेंट का गुस्सा सातवें आसमान पर पहुँच गया।

देखते ही देखते छात्र छात्राओं की भीड़ आइटीआइ चौक पर जमा हो गई। छात्रों को खदेड़ने के लिए पुलिस ने हवाई फायरिंग के साथ आंसू गैस भी छोड़े।

दरअसल दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर आईटीआई के 20 वर्षीय छात्र की बस में चढ़ने के दौरान टायर के नीचे आने से मौत हो गई थी। छात्रों छात्राओं ने परिवाहन विभाग पर आरोप लगाया। स्टूडेंट का कहना था कि बस चालक बस को निर्धारित स्टॉप पर नहीं रोकते हैं जिसके चलते उन्हें बसों के पीछे भागने के लिए मजूबर होना पड़ता है।

खुलासाः मोदी की रैली में भीड़ जुटाने के लिए पुलिस की गाड़ी से करोड़ों की ‘ब्लैकमनी’ भेजती है BJP

छात्रों ने दावा किया कि जब छात्र बस से टकराकर गिरा तो ड्राईवर ने गाड़ी नहीं रोकी थी,जिसके चलते बस से कुचल कर छात्र की मौत हो गई। जब कार्रवाई की मांग करने लगे तो जवाब में मिलीं पुलिस की लाठियां बरसने लगी।

लड़की हो या लड़का सबको पुलिस लाठियों से पीटने में लगे हुए थे। पुलिस की नजर में हर छात्र उनके लिए शिकार था। स्टूडेंट बचने की कोशिश करते हुए नजर आए मगर वो पुलिस की लाठियों से बच नहीं पाए।

हालाकिं इस लाठी चार्ज और पथराव में कुछ पुलिसकर्मी घायल हो गए। करनाल के पुलिस अधीक्षक सुरिंदर सिंह भोरिया ने कहा कि अब हालत काबू में है।

मणिपुर में लाठी के दम पर पुलिस ने जुटाई मोदी के लिए भीड़! भाषण सुनने के लिए लोगों को किया कैद

इस घटना पर कांग्रेस नेता रनदीप सिंह सुरजेवाला ने सोशल मीडिया पर लिखा- भाजपा से बेटी बचाओ। बेटियों पर लाठी-डंडों से वार ऐसी बुज़दिल निकली खट्टर सरकार

“बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओ” का नारा अब

“बेटी सताओ, बेटी पिटवाओ” में तब्दील!

देखिए किस तरह हमारी बेटियों पर निर्मम सीएम खट्टर की पुलिस द्वारा ITI करनाल में घुसकर लाठी-डंडों से वार किए गए। शर्मनाक!