• 1.3K
    Shares

महाराष्ट्र BJP नेता और महिला और बाल कल्याण मंत्री पंकजा मुंडे ने अपने विवादित बयान से एक नए विवाद को आग देना का काम किया है. उन्होंने संविधान को बदलने की बात कही है. जिसके बाद से ही पंकजा सुर्ख़ियों में छा गई हैं.

बीड में शनिवार को चनावी रैली को संबोधित करने के दौरान उन्होंने कहा कि, ‘ये जिला परिषद् नहीं बल्कि लोकसभा चुनाव हैं. महामानव डॉ. बाबासाहब आंबेडकर ने संविधान लिखा था. हमे संविधान बदलना चाहिए. हम नए बिल लाएंगे और कुछ बदलाव करेंगे.’

साथ ही उन्होंने कहा की संविधान में बदलाव चाइए तो किसी महान पुरुष को लोकसभा पहुंचाना होगा. पंकजा मुंडे पूर्व केंद्रीय मंत्री गोपीनाथ मुंडे की बेटी हैं. उन्होंने ये बयान अपनी बहन प्रीतम मुंडे के लिए चुनावी रैली में प्रचार करने के पश्चात दिया. उनकी बहन BJP से चुनाव लड़ रही हैं. पंकजा द्वारा दिए गए विवादित बयान की वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है.

इसपर एनसीपी नेता धनंजय मुंडे ने प्रतिक्रिया दी है. उन्होंने ‘चिक्की’ स्कैम का हवाला देते हुए कहा की, ‘क्या संविधान को बदलना चिक्की खाने जितना आसान है.’ कांग्रेस पार्टी ने भी पंकजा को उनके दिए बयान पर खरी सुनाई.

उन्होंने कहा की ऐसे बयान देकर ये नेता BJP का असल चेहरा सामने ला रहे हैं. कांग्रेस प्रवक्ता सचिन सावंत ने कहा की ये समय ऐसा है जब कोई भी अनजाने ही सच और वास्तविक बोलता है. हम बयान की निंदा करते हैं. लोगों को भाजपा के असली चेहरे का एहसास होना चाहिए.

वहीँ राजद ने लिखा- संविधान बदल देंगे मतलब आरक्षण, मानवाधिकार कुतर कुतर कर नहीं एक साथ निगल जाएँगे! सत्ता, संसाधन, अवसर सबसे दलित, पिछड़ों, आदिवासियों व अल्पसंख्यकों की रही सही उपस्थिति भी खत्म कर देंगे! कहने, रहने की आज़ादी को सहने की मजबूरी में बदल दिया जाएगा! और ये OBC संघी से बुलवा रहे हैं!