अगले साल पश्चिम बंगाल में विधानसभा चुनाव होने वाले है। जिसके चलते भारतीय जनता पार्टी राज्य में चुनाव जीतने के बड़े-बड़े दावे कर रही है। पश्चिम बंगाल में चुनाव जीतना भाजपा के लिए साख का सवाल बन गया है।

दरअसल राज्य की ममता बनर्जी की सरकार को चुनौती दे पाना भाजपा के लिए काफी मुश्किल है। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी भाजपा पर हमलावर होती रहती है। विधानसभा चुनाव से पहले अब टीएमसी और भाजपा में तल्ख बयानबाजी शुरू हो गई है।

इस कड़ी में तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अणुब्रत मंडल ने भारतीय जनता पार्टी पर तीखा हमला बोला है। उन्होंने बंगाल में भाजपा को सबसे बड़ा वायरस करार दिया है।

तृणमूल कांग्रेस के बीरभूम इकाई के अध्यक्ष अणुब्रत मंडल ने एक कार्यक्रम के दौरान भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष पर निशाना साधते हुए कहा कि मैं उनसे आग्रह करता हूं कि हमारे जिले में आए और सत्तारूढ़ पार्टी के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से मुलाकात करें।

इस दौरान अणुब्रत मंडल ने दिलीप घोष को भाजपा में शामिल होने के लिए भी आमंत्रित किया। बता दें, अणुब्रत मंडल तृणमूल के बाहुबली नेता माने जाते हैं और बीरभूम जिले में उनका खासा प्रभाव है।

गौरतलब है कि पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चलते राज्य में सरकार और विपक्ष के नेताओं के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो चुका है। इस विधानसभा चुनाव में एनपीआर, एनआरसी और सीएए के मुद्दे प्रमुख रहेंगे। मोदी सरकार अगले साल की शुरुआत में एनपीआर शुरू करने की योजना बना रही है।

आपको बता दें कि पश्चिम बंगाल में मुस्लिम मतदाताओं की आबादी 28 फ़ीसदी है। राज्य का अल्पसंख्यक समुदाय तृणमूल कांग्रेस के पाले में है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी राज्य में एनपीआर और एनआरसी के मुद्दे पर भाजपा को घेर रही हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

thirteen + fifteen =