मोदी सरकार द्वारा बीते दिनों लाए गए कृषि कानून के खिलाफ देशभर के किसानों ने मोर्चा खोला हुआ है। देश के कई राज्यों में नए कृषि कानून का विरोध किया जा रहा है।

इसी बीच एक बार फिर भाजपा शासित उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने इन दिनों एक और किसान विरोधी फैसला लिया है।

योगी सरकार ने उत्तर प्रदेश में पराली जलाने के चलते किसानों को जेल में डालने का आदेश जारी कर दिया है। योगी सरकार किसानों के खिलाफ केस दर्ज कर उन्हें जेल में डाल रही है।

इसी बीच सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हो रहा है। जिसमें देखा जा सकता है कि योगी सरकार की पुलिस किस तरह से किसानों के साथ बदसलूकी कर रही है।

वीडियो में एक पुलिसकर्मी किसान को कॉलर से पकड़ कर पुलिस की गाडी में बिठा रहा है। जबकि किसान की पत्नी पुलिस से गुहार लगा रही है कि उसके पति को छोड़ दें।

यह वीडियो वायरल होने के बाद सोशल मीडिया पर लोगों में योगी सरकार के खिलाफ गुस्सा देखने को मिल रहा है।

गौरतलब है कि भाजपा चुनाव प्रचार के दौरान खुद को किसान हितेषी होने के बड़े-बड़े दावे करती है। लेकिन असलियत सबके सामने है कि देश के अन्नदाता के साथ किस तरह का सलूक हो रहा है।

इस मामले में आम आदमी पार्टी के नेता और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने भाजपा पर निशाना साधा है। उन्होंने योगी सरकार को चेतावनी देते हुए ट्वीट किया है।

संजय सिंह ने लिखा है कि “अडानी, अम्बानी की दरबारी करने वाले भाजपाईयों किसान पर दादागिरी दिखाते हुए तुम्हें शर्म नही आती, आदित्यनाथ जी बताइये प्रदूषण के नाम पर किस पूँजीपति को ऐसे कालर पकड़कर गिरफ़्तार किया गया? किसानों को जेल से रिहा करो वरना @AAPUttarPradesh सड़क पर उतरेगी।”

गौरतलब है कि विपक्षी पार्टियों का आरोप है कि मोदी सरकार का नया कृषि कानून पूंजीपतियों के लिए फायदेमंद हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

two + one =