lockdown

रोटी के लिए इंसान कुत्ते के हिस्से से होड़ कर रहा है। यह वीडियो भागलपुर का है। सीसीटीवी फ़ुटेज है। एक कुत्ता दौड़ कर रोटी के टुकड़े के पास पहुँचता है। दो औरतें चल कर रोटी के पास पहुँचती हैं। कुत्ता रोटी की तरफ़ बढ़ता है। औरतें कुत्ते पर हावी हो जाती हैं। कुत्ता इंसान के हक़ में चला जाता है। एक औरत रोटी उठा लेती है।

इस दौर में कुत्ते इंसान से ज़्यादा भूखे हैं। उनकी आँत सिकुड़ गई है। भूख से रात भर चिल्लाते रहते हैं। कुत्ते का त्याग महान है। वह झपट सकता था। गुर्रा सकता था। दोनों औरतें भाग जातीं। उसे पता है कि इंसानों के बीच बहुत से लोग कुत्तों की चिन्ता करते हैं। उनके लिए खाना लाते हैं।

उसका अहसान इस कुत्ते ने अपना हिस्सा छोड़ कर चुका दिया है। औरतों के लिए सरकार की योजना है। कई नेक दिल लोग आम लोगों तक खाना पहुँचा रहे हैं। फिर भी भूखे तक रोटी नहीं पहुँच पा रही है।

इस वीडियो को कई बार देखा। इस उम्मीद में कि ज़मीन पर गिरा रोटी का टुकड़ा नहीं होगा। तो फिर वह क्या था जिस पर पहले कुत्ते ने झपटा फिर बाद में उसके लिए दोनों औरतें कुत्ते पर झपटती हैं ? वो क्या था ? मैं ग़लत होना चाहता हूँ ताकि कुत्ता सही न हो जाए। सरकार की जाँच ज़रूरी है कि उस रोटी का क्या हुआ ?

ज़्यादा कुछ नहीं कहना है। ज़्यादा कुछ नहीं देखना है। बस उस भूख को समझना है जिसकी आग किसी की आँत में जलती है।

  • रवीश कुमार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here