माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी,
भारत सरकार,

मुझे किसी ने ई-मेल से यह पोस्टर भेजा है कि लखनऊ के मेन पोलिटेकनिक चौराहे पर यह पोस्टर लगा हुआ है। मैंने वहाँ जाकर नहीं देखा है कि पोस्टर लगा है या नहीं। कई बार लोग पुरानी तस्वीर भेज जेते हैं।

बस मान कर चल रहा हूँ कि भेजने वाले ने सही जानकारी दी होगी। ऐसे पोस्टर लगते भी रहते हैं। ऐसी सोच के लोग भी होते ही हैं। इस पोस्टर में भारत को हिन्दू राष्ट्र बनाने का आह्वान किया गया है।

पत्र इसलिए लिख रहा हूँ कि मनोज श्रीवास्तव और सुरेश प्रताप सिंह 9 अगस्त को जंतर मंतर पर भगवा क्रांति करना चाहते हैं। आप चाहते हैं कि हम सभी तिरंगा झंडा ख़रीद कर घर-घर फहराएँ। लेकिन ये लोग तो कुछ और देश और संविधान बनाने की ताक में हैं। इनका झंडा भी तिरंगा नहीं है।

कहीं ऐसा तो नहीं कि हम बाज़ार से तिरंगा लेकर आ रहे हैं और देश में झंडा ही बदल गया है। मनोज और सुरेश के आह्वान से मैं भ्रमित हो गया हूँ। मुझे एक और झंडा आता हुआ दिखाई दे रहा है जो तिरंगा से अलग है।

कृपया आप स्पष्ट करें कि हम 15 अगस्त के लिए तिरंगा झंडा ख़रीदें या नहीं? अगर ये 9 अगस्त को भगवा क्रांति कर देंगे और देश को हिन्दू राष्ट्र बना देंगे तब तो करोड़ों लोग जो तिरंगा ख़रीद रहे हैं, उनका पैसा तो बर्बाद हो जाएगा। मनोज और सुरेश फ़रमान जारी कर देंगे कि लोग हिन्दू राष्ट्र का झंडा ख़रीदें। सभी को ख़रीदना ही पड़ेगा।

सूरत में व्यापारी दिन रात लगाकर तिरंगा झंडा बना रहे हैं। इधर लखनऊ के मनोज और सुरेश पोस्टर पर कोई और झंडा लगा रहे हैं। इससे तो गुजरात के व्यापारियों को घाटा हो जाएगा।

अगर इन लोगों ने तिरंगा झंडा नहीं फहराया, पोस्टर में झंडा नहीं बदलवाया तब तो आपका घर-घर तिरंगा अभियान फेल हो जाएगा। पता चला हिन्दू राष्ट्र की क्रांति करने वालों ने तिरंगा फहराया ही नहीं।

आपसे विनती है कि आप मनोज श्रीवास्तव और सुरेश प्रताप सिंह के इस पोस्टर को संज्ञान में लेंगे। दोनों से बात कर 15 अगस्त तक के लिए भगवा क्रांति स्थगित करने के लिए कहेंगे।

इनसे यह भी पूछें कि आपकी भगवा क्रांति में क्या कमी रह गई कि आज मनोज और सुरेश जैसे प्रखर युवाओं को अलग से भगवा क्रांति करनी पड़ रही है।

मेरी राय में आप मनोज और सुरेश को मनाएँ कि 15 अगस्त तक भारत को हिन्दू राष्ट्र न बनाएँ। तिरंगा झंडा की काफ़ी सेल हो चुकी है। लोगों को घाटा होगा। पहले वाले राष्ट्र के हिसाब से तिरंगा फहराने के अभियान को सफल होने दें।मनोज और सुरेश जैसे वीर राष्ट्रवादी युवा आपकी बात को नहीं टालेंगे।

आशा है आप ठीक होंगे।

आपका,
रवीश कुमार,
विश्व का पहला ज़ीरो टीआरपी ऐंकर

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

1 × 4 =