देश में चल रहे किसान आंदोलन की वजह से केंद्र की मोदी सरकार किसान संगठनों के साथ-साथ विपक्षी दलों के निशाने पर भी है। दरअसल बीते साल सितंबर के महीने में जबसे मोदी सरकार द्वारा यह कृषि कानून लागू किया गया था तबसे सरकार की मुसीबत बढ़ती जा रही है।

इन्हीं कानूनों के खिलाफ आज कांग्रेस ने किसान अधिकार दिवस मनाया। जिसके चलते देश के अलग-अलग राज्यों में विरोध प्रदर्शन किए गए।

कांग्रेस के नेताओं ने सोशल मीडिया के साथ-साथ सड़कों पर उतरकर मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोला। इस प्रदर्शन की अगुवाई राहुल गांधी और प्रियंका गांधी ने की। दिल्ली में कांग्रेस ने राजभवन का घेराव भी किया।

इसी कड़ी में न्यूज़ चैनल न्यूज़ 24 ने अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर राहुल गांधी का एक वीडियो शेयर की है। जिसमें वह मोदी सरकार पर निशाना साध रहे हैं।

इस वीडियो में राहुल गांधी किसान नेता और पीएम मोदी के बीच हुई बातचीत के बारे में बता रहे हैं। राहुल गाँधी कहते हैं कि इस बातचीत में देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से किसान नेता ने कहा कि देखिए किसानों की रक्षा अगर हम नहीं करेंगे तो देश का नुकसान होगा।

जिसके जवाब में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देखिए अगर गेहूं, चावल हिंदुस्तान में ठीक तरह से नहीं उगाया जा रहा है तो हम ब्राजील से भी खरीद सकते हैं। हम यह सब बाहर से खरीद सकते हैं।

राहुल गांधी ने कहा कि ये सवाल है कि इस देश को आजादी किसने दी है। इस देश को आजादी अंबानी और अडानी ने नहीं दी है। इस देश को आजादी किसानों ने दी है।

इसके साथ ही राहुल गांधी ने ट्विटर पर ट्वीट कर भी मोदी सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने लिखा है कि मोदी-माया टूट गयी, मोदी सरकार का अहंकार भी टूटेगा लेकिन अन्नदाता का हौसला ना टूटा है, ना टूटेगा। सरकार को कृषि विरोधी क़ानून वापस लेने ही होंगे!

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

eighteen − 1 =