25 सितंबर को भारत बंद के चलते देशभर के कई राज्यों में किसानों द्वारा कृषि बिल के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किए जा रहे हैं। लोकसभा के बाद राज्यसभा में कृषि बिल पास किए जाने के बाद ही विपक्षी दलों और किसानों ने 25 सितंबर को भारत बंद का एलान किया था।

दरअसल इससे पहले ही किसानों ने मोदी सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल रखा है। खासतौर पर पंजाब और हरियाणा के किसान सरकार पर काफी आक्रोशित हैं।

उनका कहना है कि इस कृषि बिल के जरिये सरकार ने किसानों की जान देश के बड़े पूंजीपतियों को बेचने का काम किया है।

कृषि बिल के खिलाफ देश भर में किसानों के विरोध ने मोदी सरकार को मुसीबत में डाल दिया है। इसी बीच हरियाणा के हापुड़ जिले से एक वीडियो सामने आई है।

जिसमें किसानों को एकजुट होकर विरोध प्रदर्शन करते हुए देखा जा सकता है। इस विरोध प्रदर्शन के बीच आक्रोशित किसानों ने एक एंबुलेंस को गुजरने के लिए अपने वाहनों को सड़क से हटा लिया।

इस वीडियो को फेसबुक पर पत्रकार श्याम मीरा सिंह ने शेयर किया है। इसे शेयर करते हुए उन्होंने लिखा- हापुड़ जिले में किसानों ने सड़क जाम की हुई थी। तभी एक एम्बुलेंस आती है, कुछ ही सेकंड में किसान अपनी ट्रेक्टर-ट्राली हटाकर सड़क खाली कर देते हैं और एम्बुलेंस के लिए जगह बनाते हैं।

किसान हर एक जान की कीमत समझते हैं। बाकी लोग किसान की जान की कीमत नहीं समझते वो अलग बात है। शाम आते आते इन्हीं किसानों पर लाठियां चला दीं जाएंगी। डंडा हाथ में ली हुई सरकार बताएगी कि किसानों में तहजीब नहीं है प्रदर्शन करने की।

गौरतलब है कि हाल ही में हरियाणा सरकार की पुलिस ने मोदी सरकार की तानाशाही के खिलाफ आवाज़ उठाने के लिए एकजुट हुए किसाओं पर लाठीचार्ज किया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

three × five =