किसान आंदोलन की आंच कम होने का नाम ही नहीं ले रही है। विशेष तौर पर पंजाब और हरियाणा जैसे राज्यों में किसान आंदोलन के बहाने भाजपा का विरोध बढ़ता जा रहा है।

फाजिल्का जिले की अबोहर विधानसभा सीट से भाजपा विधायक अरुण नारंग पर मुक्तसर के मलोट इलाके में गुस्साए किसानों ने हमला कर दिया।

इससे पहले की भाजपा विधायक खुद को संभल पाते, तब तक किसानों ने उनके कपड़े फाड़ डाले और उन्हें लगभग नग्न कर दिया।

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि किसानों ने विधायक के चेहरे पर कोई काले रंग का तरल पदार्थ भी लपेट दिया। इसके पूर्व किसानों ने भाजपा विधायक को काले झंडे भी दिखाए।

इस दौरान बड़ी संख्या में किसानों का जमावड़ा हो गया और विधायक को निकालने में पुलिस को काफी मशक्कत करनी पड़ गई।

स्थिति इतनी विकट हो गई थी कि विधायक को सुरक्षित रखने के लिए उन्हें पास के ही एक दुकान के अंदर बंद करना पड़ा। भाजपा विधायक एक संवाददाता सम्मेलन को संबोधित कर लौट रहे थें।

ऐसा नहीं है कि पंजाब में पहली बार किसी भाजपा नेता को विरोध का सामना करना पड़ा है। मालूम हो कि कृषि बिलों के विरोध में पंजाब में भाजपा नेताओं का लगातार विरोध हो रहा है।

भाजपा विधायक अरुण नारंग को आज जिस प्रकार से किसानों के जत्थे ने कपड़े फाड़कर नंगा कर दिया, वो भाजपा के लिए काफी चिंताजनक है।

इसके पूर्व भाजपा के पंजाब प्रदेश उपाध्यक्ष प्रवीण बंसल के साथ भी किसानों ने बदसलूकी की थी और उनका जमकर विरोध किया था। पंजाब प्रदेश भाजपा के अध्यक्ष अश्विनी शर्मा को भी कई बार किसानों के विरोध का सामना करना पड़ गया है।

पंजाब के किसानों का साफ तौर पर कहना है कि हम भाजपा का विरोध करेंगे। जहां जहां भी भाजपा के नेता कार्यक्रम करेंगे, वहां वहां जाकर हम उनका विरोध करेंगे।

पंजाब जैसी ही स्थिति पड़ोसी राज्य हरियाणा की है। हरियाणा के किसान भी लगातार भाजपा नेताओं का विरोध कर रहे हैं।

हरियाणा के किसानों में तीनों कृषि बिलों को लेकर इस हद तक आक्रोश है कि बाइक रैली करने गए भाजपा कार्यकर्ताओं को पार्टी का झंडा, टीशर्ट फाड़ कर भागना पड़ा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here