कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने चुनाव आयोग पर बड़ा आरोप लगाया है। राहुल ने कहा कि चुनाव आयोग के ऊपर दबाव है, ईवीएम को लेकर चुनाव आयोग की जिम्मेदारी है। मगर मैं उन पर टिप्पणी नहीं करूंगा। राहुल ने ये कहा कि चुनाव आयोग का रोल फेयर नहीं है।

उन्होंने कहा कि चुनाव आयोग के जो चरण बनाए गए हैं, वह बीजेपी की मदद के लिए बनाए गए हैं। नरेंद्र मोदी जी कुछ बोलते हैं तो उन पर कुछ कार्रवाई नहीं होती, मगर कोई और कुछ कह देता है उसपर आयोग एक्शन ले लेता है।

पत्रकार रवीश कुमार के सवालों का जवाब देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि नरेंद्र मोदी ने दिखाया कि देश को किस तरह नहीं चलाना चाहिए। अगर आप किसी को बिना सुने देश चलाएंगे तो देश सही से नहीं चलेगा। नरेंद्र मोदी के कम्यूनिकेशन स्किल को कोई मैच नहीं कर सकता।

दुनियाभर में जिस भारत का सम्मान इंदिरा-राजीव और अटल ने बढ़ाया, उसे मोदी ने बर्बाद कर दिया

गांधी नेहरु परिवार पर होने वाले हमलों पर राहुल ने कहा कि नरेंद्र मोदी, राजीव जी के बारे में नेहरु जी और इंदिरा जी के बारे में जो भी बोलते हो मगर मुझे पता है सच क्या है। मैं जानता हूँ प्रधानमंत्री मोदी झूठ बोल रहें है।

बता दें कि चुनाव आयोग इस बार कई तरह के सवाल उठ चुके है। बालाकोट स्ट्राइक के नाम पर वोट अपील करना उसके बाद आयोग का उन्हें क्लीनचिट देना। अब चुनाव आयोग प्रधानमंत्री मोदी को 9 बार से ज्यादा बार क्लीनचिट देते हुए विपक्षी नेताओं की शिकायत को नज़रअंदाज़ कर चुका है।