आज उत्तर प्रदेश में सत्तारूढ़ भाजपा के लिए दिन काफी उथल-पुथल भरा रहा। एक दिन में मंत्री से लेकर 5 विधायकों ने इस्तीफा सौंप दिया।

बताया ऐसा जा रहा है कि अभी इस्तीफों का दौर काफी लंबे वक्त चलेगा। पिछड़े समाज से आने वाले कद्दावर नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने मंत्रिमंडल से इस्तीफा देते हुए भाजपा को छोड़ दिया।

स्वामी ने भाजपा पर गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने दलित, पिछड़ों और किसानों नौजवानों की उपेक्षा का आरोप भाजपा पर लगाया।

इतना ही नहीं मंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद उन्होंने इशारों-इशारों में भाजपा के कुछ बड़े नेताओं को आगामी विधानसभा चुनाव में सबक सिखाने की बात भी की।

स्वामी प्रसाद मौर्य के इस्तीफे के बाद भाजपा में इस्तीफों की झड़ी लग गई। कई विधायकों से लेकर नेताओं ने भाजपा को अलविदा कह दिया।

इसी कड़ी में बांदा के तिंदवारी विधानसभा से विधायक ब्रजेश कुमार प्रजापति ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट की

उन्होंने लिखा कि, स्वामी नहीं संत हैं भाजपा का अंत हैं

ब्रजेश की यह पोस्ट काफी वायरल हो रही है। स्वामी समर्थन में ब्रजेश अकेले इस्तीफा देने वाले विधायक नहीं है।

उनके अलावा रोशन लाल, भगवती सिंह सागर, विनय शाक्य ने भी भाजपा छोड़ दी है। दावा अभी और विधायकों के पार्टी छोड़ने का किया जा रहा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

nineteen − 16 =