मध्यप्रदेश में इस वक्त विधानसभा उपचुनाव के लिए चुनाव प्रचार जोरों शोरों से किया जा रहा है। राज्य में इस बार भारतीय जनता पार्टी और कांग्रेस के बीच यह चुनाव साख का सवाल बन चुका है।

जहां भाजपा अपनी सरकार को बचाने के लिए के लिए चुनाव लड़ रही है। वहीँ कांग्रेस एक बार फिर सत्ता में दुबारा वापिस आने की कोशिश में हैं।

इसी बीच भाजपा नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री उमा भारती प्रदेश की मेहगांव विधानसभा क्षेत्र से पार्टी उम्मीदवार के समर्थन में जनसभा को संबोधित करने के लिए पहुंची थी।

लेकिन वहां पर कुछ ऐसा हुआ की उमा भारती बिना भाषण दिए ही वापस आ गई।

दरअसल पहले तो उमा भारती के हेलीकॉप्टर को जनसभा स्थल से काफी दूर उतारा गया। जिससे वह नाराज हो गई।

दरअसल नुंहड़ गांव में आयोजित जनसभा स्थल के मंच पर जब वह पहुंची। तो उन्होंने संचालकों पर जमकर अपनी नाराजगी जताई। इसके बाद जब उन्होंने देखा कि वहां पर बहुत ही कम भीड़ मौजूद दी।

बताया जा रहा है कि उमा भारती की जनसभा में 200 लोग भी नहीं जुटे थे। इस दौरान पंडाल में खाली कुर्सियां देखकर उमा भारती का गुस्सा और भड़क गया। उन्होंने मंच से ही संचालकों पर गुस्सा जाहिर करते हुए अपना भाषण रोक दिया।

उमा भारती ने कहा कि मेरे साथ भिंड और मुरैना में हमेशा ऐसा ही होता है। मेरे लिए हेलीपैड दूर बनाया गया। जिसके चलते मेरा पूरा समय हेलीपैड से जनसभा स्थल तक पहुंचने में ही लग गया।

ऐसे में जब मैं वहां पहुंची तो जनता भी मौजूद नहीं थी। अब मैं यहां पर क्या भाषण दूं। यह सब संचालक मंडल के कारण हुआ है। इतना कहने के बाद उमा भारती बिना भाषण दिए ही वहां से निकल गई।

इससे पहले भी ऐसी कई खबरें सामने आ चुकी है कि प्रदेश में भाजपा की रैलियों में भीड़ नहीं जुट रही है।

सोशल मीडिया पर वायरल हुई एक वीडियो में सुरक्षा अधिकारी जबरदस्ती लोगों को भाजपा नेताओं का भाषण सुनने के लिए रोकते हुए नजर आए थे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

19 + 10 =