पश्चिम बंगाल में अप्रैल-मई के मध्य में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। हालांकि अभी तक चुनाव आयोग की तरफ से मतदान की तारीखों का ऐलान नहीं किया गया है।

राज्य की सत्तारूढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस और भारतीय जनता पार्टी के बीच इस बार कड़ी टक्कर देखने को मिल सकती है।

दरअसल राज्य के मतदाताओं को लुभाने के लिए भाजपा के दिग्गज नेता लगातार पश्चिम बंगाल के दौरे कर रहे हैं। राज्य की सत्ता हासिल करने की कवायद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी 15 दिनों में दो बार ममता के गढ़ आ चुके हैं।

आज केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पश्चिम बंगाल के दौरे पर पहुंचे हुए हैं। इस दौरान उन्होंने ममता बनर्जी पर जमकर जुबानी हमले बोले हैं।

अमित शाह का दावा है कि बंगाल की जनता ने इस बार सत्ता परिवर्तन का मन बना लिया है। इस जनसभा में अमित शाह ने किसानों का मुद्दा उठाया है।

इस मामले में कांग्रेस नेता अलका लांबा ने भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधा है अलका लांबा ने News24 की एक खबर शेयर करते हुए ट्वीट किया है।

उन्होंने लिखा है कि “देश के किसानों को अब राज्य, चुनाव और वोटों की राजनीति के तहत देखा जायेगा.. बंगाल के किसानों को रुपयों का लालच दिया जा रहा है.

बिहार के किसानों के खातों में कितने आ रहे हैं? यही बता दीजिए, या वहां अब 5 सालों तक कुछ करने की जरूरत नहीं?”

 

दरअसल जनसभा में केंद्रीय गृह मंत्री ने दावा किया है कि पीएम मोदी हर साल देश के किसानों के खातों में छह-छह हजार डालते हैं।

लेकिन पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी के कारण किसानों को यह पैसा नहीं मिल पाता है अगर इस बार पश्चिम बंगाल में सरकार बनती है तो किसानों के अकाउंट में 18-18 हजार रूपये भेजे जाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

4 × one =